वाराणसी, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना की दूसरी लहन से बचाव के लिए कुछ व्यापारिक संगठन लगातार कई दिनों से सामाजिक कार्य में जुटे हुए हैं। इसी के तहत शनिवार को महानगर उद्योग व्यापार समिति से संबंधित संगठन वाराणसी एलपीजी वितरक संघ ने 1000 पैकेट दवा की किट व पूर्वांचल रियल स्टेट एसोसिएशन ने 50 पीस ऑक्सीमीटर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल को सौंपा। मंडलाआयुक्त ने संगठन द्वारा समाज सेवा में भागीदारी की सराहना की। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय मे कोरोना महामारी अपनी चरम सीमा पर है। इस समय जरूरतमंदों की सेवा करना एक पुण्य कार्य है।

मंडलायुक्त ने व्यापारियों से कहा कि कोरोना की तीसरी लहर भी आ सकती है। इसलिए अभी से तैयार होना पड़ेगा। संगठन के अध्यक्ष प्रेम मिश्रा ने कहा कि कोरोना के लिए एक जन निगरानी समिति बनाई जाए, जिसमें व्यापारियों को भी जोड़ा जाए। ताकि व्यापारी भी सभी की समस्याओं के निराकरण में योगदान कर सके। एलपीजी के प्रवक्ता मनीष चौबे ने कहा कि एलपीजी के ट्राली मैन के लिए प्रशासन की ओर से किसी भी प्रकार का सहयोग अगर मिल जाए तो उन सभी को वैक्सीन लग जाती। कारण कि वे 25 से 30 हजार घरों में रोजाना सिलेंडर लेकर जाते हैं।

पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन के अध्यक्ष आरसी जैन ने कहा कि अगर सभी को प्रशासन से यह रियायत मिल जाएगी तो जहां पर हमारी बिल्डिंग बन रही है वहां पर कार्य शुरू हो जाता। कारण कि श्रमिक बैठे हुए हैं। इस मौके पर एलपीजी वितरक संघ के अध्यक्ष कुमार अग्रवाल, महामंत्री धर्मवीर सोनकर, पवन पांडेय, महानगर उद्योग व्यापार समिति से महामंत्री अशोक जायसवाल, पूर्वांचल रियल एस्टेट एसोसिएशन के चेयरमैन अनुज डीडवानिया, घनश्याम जायसवाल, उपाध्यक्ष सोमनाथ विश्वकर्मा, डा. अंजनी मिश्रा आदि मौजूद थे।