जागरण संवाददाता, वाराणसी। मानसून अब पूर्वांचल से लगभग वापस चला गया है। इसके कारण अब बारिश की कम ही संभावना है। हां, हवा में अगर जब नमी आएगी तो आसमान में बादल छा सकते हैं। शुक्रवार को दिनभर ऐसा ही हुआ भी। पूरे दिन तेज धूप थी, लेकिन शाम को बादल हो गए थे।  वहीं मौसम में इस उतार-चढ़ाव के बीच अधिकतम व न्यूनतम दोनों ही तापमान में मामूली बढ़ाव हुआ है। हालांकि भोर में अब सिहरन बढ़ने लगी है। इससे कारण एसी, कूलर बंद करने की नौबत आ जा रही है।

इससे पहले मौसम में मामूली बदलाव होने के कारण बुधवार की सुबह आसमान में बादल छाए थे। हालांकि करीब साढ़े दस बजे के बाद फिर से आसमान साफ हो गया था। कारण कि मानसून अब समाप्ति की ओर है। बुधवार को मानसून सौराष्ट्र व पश्चिमी राजस्थान से गुजर रहा था। अब पूर्वांचल से भी गुजर ही गया है। अभी भी जमीन से 900 मीटर तक ही पछुआ हवा चल रही है। इसके कारण धूप खिलकर हो रही है। प्रसिद्ध मौसम विज्ञानी प्रो. एसएन पांडेय बताते हैं कि फिलहाल ऐसे ही मौसम बने रहेगा। बारिश की संभावना न के बराबर ही है। हां, अगर मौसम में अधिक परिवर्तन हुआ तो पूर्वांचल के ग्रामीण हिस्सों में गरज के साथ बूंदाबांदी हो सकते हैं। उन्होंने बताया कि मानसून अव यहां से वापस जा रहा है। जल्द ही क्वार की आहट भी आ सकती है।

कुछ यूं उतरने लगा है पारा

तिथि           अधिकतम    न्यूनतम

07 अक्टूबर     34.8         24.0

06 अक्टूबर     34.2         23.6

05 अक्टूबर     32.8         23.8

04 अक्टूबर     34.6         21.0

03 अक्टूबर    34.0         21.4

02 अक्टूबर     27.8         21.4

01 अक्टूबर     29.0         22.4

30 सितंबर      33.6          22.7

29 सितंबर      34.6          23.2

28 सितंबर      35.0          23.4

27 सितंबर      35.2          24.3

Edited By: Saurabh Chakravarty