वाराणसी, जेएनएन। शहर में एक बार फ‍िर गृहमंत्री अमित शाह के जल्‍द आने की सूरत बन रही है। दरअसल उत्तर-पूर्वी क्षेत्र विकास मंत्रालय के अधीन उत्तर पूर्वी परिषद (एनइसी) अपना वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम 'उत्तर-पूर्व गंतव्य-2019' पहली बार बनारस में आयोजित करने जा रहा है। संपूर्ण आयोजन आइआइटी-बीएचयू के टेक्टनोलॉजी ग्राउंड में 23 नवंबर से 26 नवंबर तक आयोजित है। 23 नवंबर को आयोजित उद्घाटन समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा. जितेंद्र सिंह सहित पूर्वोत्तर के आठ राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे।

चार दिवसीय कार्यक्रम में उत्तर पूर्व के आठ राज्यों अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम व त्रिपुरा के हस्तशिल्प, वस्त्र एवं क्षेत्रीय उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। साथ ही इन राज्यों की कला एवं पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का संचालन भी किया जाएगा। आयोजन का मुख्य आकर्षण लाइव किचन होगा, जिसमें लोगों को उत्तर-पूर्वी क्षेत्रों के व्यंजनों का लुत्फ उठाने का मौका मिलेगा। 'उत्तर पूर्व गंतव्य 2019' कार्यक्रम के लिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बीएचयू स्थित टेक्नोलॉजी ग्राउंड उत्तर पूर्वी परिषद को उपलब्ध कराया है। 


बोले अधिकारी : कार्यक्रम के सफल आयोजन को लेकर बीते बुधवार को प्रशासनिक अधिकारियों संग संस्थान के आला अधिकारियों की बैठक हुई थी। इस आयोजन से संस्थान के छात्रों सहित पूर्वांचल के लोगों को उत्तर-पूर्वी क्षेत्र को करीब से जानने व सीखने का मौका मिलेगा। - प्रो. प्रमोद कुमार जैन, निदेशक (आइआइटी-बीएचयू)। 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप