वाराणसी, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने वाराणसी दौरे के दौरान 20 मृतक आश्रितों को नियुक्ति पत्र वितरित किया। उन्होंने अमन कुमार को ग्राम विकास अधिकारी पद, प्रशांत कुमार मिश्रा को कृषि विभाग में कनिष्ठ सहायक पद पर, कंचन लता को शिक्षा विभाग में सहायक अध्यापक एवं पूजा मिश्रा को शिक्षा विभाग में ही परिचारक के पद पर सहित 4 लोगों को नियुक्ति पत्र उपलब्ध कराएं। कंचन लता को नियुक्ति पत्र देने के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके साथ आए छोटे बच्चे को दुलार करते हुए कंचन लता से बच्चे को खूब पढ़ाने की नसीहत दी। वहीं नियुक्ति पत्र प्राप्त करने वाले लोगों से उन्होंने पूरी ईमानदारी एवं मेहनत से अपने दायित्वों का निर्वहन करने की भी सलाह दी।

नियुक्ति वितरण के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को निर्देशित करते हुए कहा कि मृतक कर्मियों के सेवागत लाभ का भुगतान प्राथमिकता के आधार पर सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि किसी भी मृतक कर्मी का कोई भी ड्यूज किसी भी दशा में बकाया नहीं रहना चाहिए। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में कुल 81 कोविड एवं नान कोविड के सरकारी कर्मियों को चिन्हित किया गया था। जिसमें से 27 लोगों को नियुक्ति पत्र जारी किया गया है, जिसमें से आज उपस्थित 20 लोगों को नियुक्ति पत्र उपलब्ध करा दिया गया। जबकि शेष 54 में से 13 लोगों के नियुक्ति प्राधिकारी शासन स्तर पर होने के कारण उनके नियुक्ति का प्रकरण शासन स्तर पर भेज दिया गया है। जबकि 41 लोगों ने अपने व्यक्तिगत कारणों से समय की मांग की है। जिसे भी शासन स्तर पर भेजा गया है।

इस दौरान उत्तर प्रदेश के पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकॉल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉक्‍टर नीलकंठ तिवारी, स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल, विधायक सौरभ श्रीवास्तव सहित जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Edited By: Saurabh Chakravarty