बलिया, जागरण संवाददाता। बैरिया थाना क्षेत्र के मठ योगेंद्र गिरी नई बस्ती गांव में जमीन पर टूट कर गिरे बिजली के तार के चपेट में आ जाने से शुक्रवार की सुबह चंदा देवी (25) पत्नी अनंत शाह की दर्दनाक मौत हो गई। गुस्साए ग्रामीणों ने शव को राष्ट्रीय राजमार्ग 31 पर रखकर सड़क को जाम कर दिया।

मार्ग जाम होने के बाद लोगों की आवाजाही भी थम गई और वाहनों की कतार लगने के बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जाम खत्‍म कराने के लिए लोगों से बातचीत भी की। मौके पर पहुंचे कोतवाल राजीव कुमार मिश्र ने लोगों को समझा-बुझाकर जाम को समाप्त कराया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बलिया भेज दिया। मृतक के पति के तहरीर पर बिजली विभाग के अवर अभियंता विनोद कुमार भारद्वाज लाइनमैन व अन्य कर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

उल्लेखनीय है कि चंदा देवी सुबह उठकर शौच के लिए खेत में जा रही थी। कि पहले से टूट कर गिरे बिजली के तार मे विद्युत प्रवाह था। उसी के चपेट में आ गई और मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि तीन दिनों से बिजली का तार टूट कर गिरा हुआ था। जिसे ठीक करने के लिए कई बार लाइनमैन और जेई से ग्रामीण आग्रह किए थे। किंतु तार ठीक नहीं किया गया और यह दुर्घटना हो गई।

निलंबन के साथ लाइनमैन की सेवा समाप्त : सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त के हस्तक्षेप पर अधीक्षण अभियंता विद्युत आरके जैन ने मृतक आश्रितों को पांच लाख देने की आर्थिक सहायता घोषणा की है। वहीं अवर अभियंता विनोद कुमार भारद्वाज को कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया है। लाइनमैन की भी सेवा समाप्त कर दी गई है। सांसद ने कहा है और जो भी संभव होगा मृतक परिवार को मदद पहुंचाई जाएगी।

Edited By: Abhishek Sharma