वाराणसी, जेएनएन। गिरजाघर चौराहे से बेनियाबाग तिराहा मार्ग ओल्ड ट्रंक सीवर के जीर्णोद्धार कार्य के लिए 15 दिनों तक बंद रहेगा। इसके लिए प्रशासन ने रूट डायवर्जन किया है। डायवर्जन 12 अक्टूबर की रात से लागू हो गया। गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई जायका सहायतित योजना गैप-11 के अंतर्गत ओल्ड ट्रंक सीवर लाइन के जीर्णोद्धार का कार्य कर रही है। आगामी त्योहारों को देखते हुए निर्णय लिया गया है कि उसके पूर्व मार्ग को सुगम किया जाए। इस कारण 15 दिन तक रास्ता ब्लाक करने का निर्णय लिया गया है। 

इस प्रकार होगा डायवर्जन 

-लहुराबीर से रामापुरा चौराहे की तरफ जाने वाले सभी प्रकार के चार पहिया वाहन अथवा व्यावसायिक वाहन, स्कूल बस प्रतिबंधित रहेंगे। ये सभी वाहन मलदहिया, साजन तिराहा, सिगरा चौराहा, रथयात्रा, गुरुबाग होते हुए रामापुरा की तरफ जा सकते हैं। 

-रामापुरा से लहुराबीर-बेनियाबाग की तरफ जाने वाले चार पहिया वाहन गुरुबाग, रथायात्रा, सिगरा, मलदहिया होते हुए लहुराबीर की ओर जाएंगे। 

-बेनियाबाग से रामापुरा की तरफ जाने वाले समस्त प्रकार के चार पहिया वाहन लहुराबीर से मलदहिया, सिगरा, रथयात्रा गुरुबाग होते हुए जाएंगे। 

-कबीरचौरा की तरफ से रामापुरा की तरफ जाने वाले चार पहिया वाहन लहुराबीर, मलदहिया, रथयात्रा, गुरुबाग होते हुए जाएंगे। 

ट्रैफिक वालेंटियर्स रहेंगे तैनात

डायवर्जन व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए लहुराबीर चौराहा, रामापुरा, बेनियाबाग, कबीरचौरा, बादशाहबाग कालोनी-हथुआ मार्केट मोड़, हबीबपुरा तिराहा मोड़, चौछटवा मोड़, पिपलानी कटरा, पान दरीबा मोड़, चेतगंज चौराहा-पियरी मोड़, उस्ताद बिस्मिल्लाह खां मोड़, काली महाल मोड़, कोदई चौकी मोड़ पर ट्रैफिक वालेंटियर्स फ्लोरोसेंट जैकेट, सेफ्टी टार्च, सीटी के साथ तैनात रहेंगे।

क्या करनी होगी व्यवस्था

डायवर्जन के लिए लिए कार्यदायी संस्था को कार्य स्थल पर मजबूत सुरक्षा दीवार, बैरिकेडिंग, हाईट गेज, ब्राड गेज, रात में लाल बत्ती, दिन में लाल झंडी आदि संकेतक लगाने को कहा गया है। यह भी आदेश दिया गया है कि कार्यदायी संस्था डायवर्जन वाले रोड की मरम्मत संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित कर करे। ताकि लोगों को कोई परेशानी न हो। 

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस