वाराणसी, इंटरनेट डेस्‍क। बनारस शहर की कई खबरों ने रविवार को चर्चा बटोरीं जिनमें चौथे सराफा कारीगर की मौत, तीन दिनी फिल्म महोत्सव, व्‍यापारियों ने की मंत्री से मांग, नाइट कर्फ्यू का पालन, बाबा दरबार में दरवाजा आदि प्रमुख खबरें रहीं। जानिए शाम पांच बजे तक की शहर-ए-बनारस की पांच प्रमुख और चर्चित खबरें।

वाराणसी के सराफा कारखाना में जले एक और कारीगर की मौत, अब तक चार लोगों की हो चुकी है मौत

चौक थाना क्षेत्र के रेशम कटरा स्थित सराफा कारखाना में पिछले रविवार की रात गैस पाइप फटने से लगी आग में शनिवार की रात एक और कारीगर की मौत हो गई। आग में झुलसे छह लोगों में से अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। एक की मौके पर और पांच लोगों का बीएचयू ट्रामा सेंटर में उपचार चल रहा था, उसमें गुरुवार की रात एक कारीगर और मेठ की मौत हो गई है। हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर कुल चार हो गई है। आग की चपेट में आने से सभी 70 फीसद से अधिक जल चुके थे। चौक थाना क्षेत्र के रेशम कटरा स्थित विशाल अग्रवाल के मकान में चौथे मंजिल पर सराफा कारखाना है। पश्चिम बंगाल के मेदनीपुर के रहने वाले गोपाल उर्फ पांचू अदव के कारखाने में वहीं के कारीगर काम करते थे। पिछले रविवार को कारीगर गैस चूल्हा पर मुर्गा बनाने के बाद चावल पका रहे थे।

वाराणसी में सजेगा फिल्मों का गुलदस्ता, तीन दिनी फिल्म महोत्सव का आगाज

पर्व-उत्सवों के शहर बनारस में श्रीकाशी विश्वनाथ धाम यात्रा के तहत फिल्मों का गुलदस्ता सजने जा रहा है। इसमें बनारस का यह खास रंग नजर आएगा जो इसकी खूबियों को राष्ट्रीय पटल पर सामने लाएगा। वास्तव में फिल्म बंधु उत्तर प्रदेश व सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय भारत सरकार की ओर से 27 से 29 दिसंबर तक रुद्राक्ष इंटरनेशनल कोआपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर में काशी फिल्म महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इसका पहला दिन हास्य-व्यंग्य और ठहाकों के नाम होगा। शाम चार बजे उद्घाटन सत्र में पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकाल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मुख्य अतिथि और सूचना प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा विशिष्ट अतिथि होंगे। इसमें हास्य अभिनेता मनोज जोशी की खास प्रस्तुति होगी। वहीं, लाइव शो में हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव गुदगुदाएंगे और कैलाश खेर अपने सूफियाना अंदाज से मस्त मिजाज बनारस को झूमने पर विवश कर दिखाएंगे।

वाराणसी के व्यापारियों ने मंत्री नंदगोपाल नंदी के समक्ष रखी समस्याएं, जल्द निस्तारण का मिला भरोसा

व्यापारियों की समस्याओं पर आवाज बुलंद करते हुए वाराणसी व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने रविवार को मैदागिन स्थित पराड़कर भवन में व्यापारिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें उड्डयन मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी ने व्यापारियों को भरोसा दिलाया कि प्रदेश सरकार हमेशा व्यापारिक हितों के लिए कार्य करती आ रही है। आने वाले समय में व्यापारियों की समस्याओं के समाधान के लिए प्राथमिकता के आधार पर फैसले किए जाएंगे। अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा ने व्यापारियों से आह्वान किया कि व्यापारिक हितों से समझौता करने की प्रकृति को छोड़ते हुए सभी एकजुट हो जाएं। मंडी टैक्स ,जीएसटी विसंगतियों, व्यापारिक आयोग, व्यापारी एक्ट, व्यापारियों के लिए मुआवजे का प्रावधान आदि समस्याओं के समाधान के लिए हमें अब अपनी लड़ाई खुद ही लड़नी पड़ेगी । उन्होंने मंत्री नंद गोपाल नंदी को व्यापारियों की समस्याओं से अवगत कराया। कहा कि सरकार व्यापारिक हित की बात करती है। परंतु व्यापारियों के लिए अभी तक कोई भी ऐसा नियम नहीं बना जिससे व्यापारी वर्ग की भलाई हुई हो। मंडी टैक्स के कारण छोटे व्यापारियों के हालात दयनीय हो गए हैं।

वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस नाइट कर्फ्यू का पालन कराने सड़क पर उतरी, रात में बंद कराई दुकानें

कमिश्नरेट पुलिस पहले दिन शनिवार को नाइट कर्फ्यू का पालन कराने रात 11 बजे सड़क पर उतरी। कमिश्नरेट पुलिस ने दुकाने बंद कराने के साथ राहगीरों को घर लौटने की अपील करती रही। वहीं, कई राहगीरों को चेतावनी भी दी। दोबारा सड़क पर दिखाई पडऩे पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। कुछ स्थानों पर दुकानदारों ने विरोध करने की कोशिश की लेकिन पुलिस के सख्ती के आगे वह लौट गए। पूरी रात कमिश्नरेट पुलिस लाउड स्पीकर से लोगों को जागरूक करती रही। शासन के आदेश पर अपर पुलिस आयुक्त (मुख्यालय व अपराध) सुभाष चंद्र दुबे ने रात 11 बजे से नाइट कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया। डीसीपी, एडीसीपी, एसीपी, थाना और चौकी प्रभारी को निर्देश दिया कि अपने-अपने क्षेत्र में दुकानदारों, राहगीरों को जागरूक करने के साथ अमल में लाएं। सिगरा थाना प्रभारी बैजनाथ सिंह रोडवेज बस स्टैंड, कैंट रेलवे स्टेशन के सामने, जवाहर नगर मार्केट और इंग्लिशिया लाइन पर दुकानें बंद कराई।

वाराणसी में श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में सभी द्वार का होगा नामकरण, सभी प्रवेश द्वार पर लगे विशाल दरवाजे

काशी में भगवान विश्‍वनाथ का भव्‍य दरबार बनकर तैयार हो गया है। अब बाबा दरबार में आस्‍था का सागर नियमित उमड़ रहा है। अवकाश का दिन होने की वजह से बाबा दरबार में लोगों की भीड़ और नए साल पर बाबा का आशीर्वाद लेने के लिए आने वालों की भीड़ भी खूब नजर आती है। दिव्‍य और भव्‍य काशी विश्‍वनाथ दरबार में आने के लिए बने भव्‍य दरवाजों को देखकर अब लोगों के सामने दिव्‍य बाबा दरबार का कलेवर भी नजर आएगा। भव्‍य दरवाजे भी बाबा दरबार में चार चांद लगाते हैं। बाबा दरबार में लगने वाले सभी दरवाजे सीड़ लकड़ी से राजस्थान में तैयार किए गए हैं। वाराणसी में इनको लाकर सफाई और पाॅलिश धाम में ही किया गया है। इन दरवाजों की कीमत लाखों में आंकी गई है। वाराणसी में बाबा दरबार में बनने वाले सभी द्वारों के नाम भी अब प्रस्तावित किए गए हैं।

Edited By: Abhishek Sharma