वाराणसी, जेएनएन। कुछ महीने बाद ही टोक्यो ओलंपिक शुरू हो जाएंगे। इस बार भारत की हॉकी टीम से बहुत उम्मीदे हैं। जिस तरह से वह ऑस्ट्रेलिया और बेल्जियम को पराजित कर रही है। उससे पदक जीतने की उम्मीद बहुत अधिक हो गयी है। यह कहना है पूर्व ओलंपियन राहुल सिंह का।

डा. भीमराव आंबेडकर क्रीड़ा संकुल, बड़ा लालपुर में गुरुवार को उन्होंने बताया कि टीम की गति और लय पूरे सवाब पर है। बनारस के ललित उपाध्याय पर बहुत अधिक उम्मीद है। वह लगातार मैदान पर शत प्रतिशत मेहनत कर रहा है। राहुल इस समय बनारस में चल रही पद्मश्री मोहम्मद शाहिद स्मृति आल इंडिया प्राइज मनी हाकी प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही कस्टम मुंबई के कोच बन कर आए हुए हैं। मूल रूप से राहुल बनारस के रहने वाले हैं। ये पूर्व ओलंपियन स्वर्गीय विवेक सिंह के छोटे भाई भी है।

राहुल ने कहा इतिहास दोहरा भी सकता है। आज से 40 वर्ष पूर्व मास्को ओलंपिक 1980 में भारत ने हॉकी में स्वर्ण पदक जीता था। स्वर्ण पदक जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका बनारस के स्वर्गीय मोहम्मद शाहिद ने अहम भूमिका निभाई थी। इस वर्ष टोक्यो ओलंपिक में वाराणसी के ललित उपाध्याय पर बहुत अधिक भरोसा है। हांलाकि भारतीय हॉकी टीम अभी तक घोषित नहीं हुई है। ललित ने विश्व कप हॉकी में भी शानदार प्रदर्शन किया था।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस