वाराणसी, जेएनएन। गांवों में पहुंचे बाहरी लोगों की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रत्येक विकास खंड स्तरीय सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को दो-दो थर्मल स्कैनर उपलब्ध कराया गया है। मंगलवार को ऐसे 92 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गई। थर्मल स्कैनिंग में यदि कोई व्यक्ति संदिग्ध मरीज के रूप में पाया जा रहा है तो उसे पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय व सर सुंदर लाल चिकित्सालय, बीएचयू के आइसोलेशन वार्ड में रखकर उसके नमूना संग्रह, उपचार आदि की कार्यवाही कराई जा रही है।

दो सचल चिकित्सकीय दलों द्वारा विभिन्न होटल, लॉज, मठों व धर्मशालाओं में मौजूद तमिलनाडु, गुजरात, तेलांगाना, आंध्रप्रदेश, हैदराबाद आदि राज्यों से पहले से आए 139 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गई। जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा के निर्देश पर दो चिकित्सकीय टीमों द्वारा डूडा आश्रय स्थल परमानंदपुर तथा डूडा आश्रय स्थल सिकरौल में रुके 78 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। स्थाई व अस्थाई रूप से जनपद वाराणसी व अन्य जनपदों तथा राज्यों के जनपद में 381 व्यक्तियों को सरकारी क्वारंटाइन किया गया। अब तक 1419 व्यक्तियों को सरकारी क्वारंटाइन किया गया। जनपद के 252 व्यक्तियों को होम क्वारंटाइन किया गया। अब तक कुल 1419 व्यक्ति होम क्वारंटाइन हुए हैं। जनपद में 816 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की गई। अब तक कुल 45299 व्यक्तियों की थर्मल स्कैनिंग की जा चुकी है।

शहर के विभिन्न क्षेत्रों में छिड़काव

स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम व अग्निशमन विभाग द्वारा शहर के विभिन्न हिस्सों में हाइपो क्लोराइड, ब्लीचिंग व एंटीलार्वा का छिड़काव किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 15 मशीनें हाइपो क्लोराइड, एंटीलार्वा की सात मशीनें छिड़काव कर रही हैं।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस