वाराणसी, जागरण संवाददाता। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का हेलीकाप्‍टर उड़ान भरने के बाद दोबारा लैंड कराया गया। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ का हेलीकॉप्टर फिर वापस आया तो हड़कंप मच गया। जिला मुख्यालय पर आनन फानन फिर से सुरक्षा कड़ी कर दी गई। 

पु‍लिस अधिका‍रियों ने बताया कि हेलीकॉप्टर में कुछ खराबी आने की वजह से उसे वापस लैंड करना पड़ा। इसके बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ सड़क मार्ग से बाबतपुर एयरपोर्ट रवाना हो गए। लगभग दो घंटे की देरी के बाद सीएम राजकीय विमान से 11 बजे लखनऊ रवाना हो गए। विमानन सेवा से जुड़े अधिकारियों के अनुसार जिस समय मुख्यमंत्री के हेलीकाप्टर से पक्षी टकराया उस समय हेलीकाप्टर पिसौर गांव के ऊपर 1550 फीट की ऊंचाई पर था और 190 किमी/घंटा की गति हेलीकाप्‍टर की थी।

प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार चापर में आई तकनीकी खराबी के कारण सीएम का हेलीकॉप्टर दोबारा लैंड कराना पड़ा। इस बाबत एडीएम सिटी गुलाब चंद ने बताया कि पायलट ने कुछ तकनीकी गड़बड़ी की बात कही है, इसीलिए लौटना पड़ा। कमिश्‍नर ने इस बाबत स्‍पष्‍ट किया कि हेलीकॉप्टर में पक्षी टकराने की वजह से सावधानी बरतते हुए हेलीकॉप्टर वापस आ गया। इसके बाद राजकीय विमान से सीएम अब लखनऊ एयरपोर्ट से होकर जाएंगे।

हालांकि आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर रविवार को पक्षी से टकराने की वजह से वापस पुलिस लाइन लैंड कराया गया। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सुबह नौ बजे सीएम योगी वापस सुल्तानपुर जा रहे थे। इसी बीच करीब करीब चार मिनट की उड़ान के बाद उनके हेलीकॉप्टर से बीच हवा में एक पक्षी टकरा गया। इस दौरान उनके हेलीकाप्‍टर का एक शीशा प्रभावित हो गया। पायलट ने तत्परता दिखाते हुए और किसी तकनीकी खराबी की आशंका को देखते हुए वापस हेलीकॉप्टर को सुरक्षा कारणों से पुलिस लाइन लाकर लैंड किया।

इस बीच जिला मुख्यालय से आधे से अधिक सुरक्षा बल और अधिकारी वापस चले गए थे। मंत्री रविंद्र जयसवाल मुख्यमंत्री को हेलीपैड पर छोड़कर वापस सर्किट हाउस आ गए थे । जो लोग बचे हुए थे वह आशंका में डूब गए कि आखिर ऐसा क्या हुआ जो वापस लौटे हैं। वो लोग रुक गए। एक बार फिर सभी को सूचित किया गया और रास्ता खाली करान के बाद सभी चेकप्वाइंट पर पुलिस को तैनात किया गया। 

इसके बाद  सर्किट हाउस बाबतपुर मार्ग पर बाबा के लिए पुलिस और पीएसी के जवानों को डायवर्ट किया गया। दो गाड़ियों में भरकर पुलिस को ड्यूटी के लिए भेजा गया और राजकीय विमान को लखनऊ से बुलाया गया। मुख्यमंत्री को पहले हेलीकॉप्टर से सुल्तानपुर जाना था और वहां पूर्व विधायक स्वर्गीय सूर्यभान सिंह को उनके आवास पहुंच कर श्रद्धांजलि अर्पित करनी थी। हालांकि डेढ़ घंटे के विलंब से मुख्यमंत्री सर्किट हाउस से बाबतपुर के लिए सुबह साढ़े दस बजे प्रस्थान कर गए। मुख्यमंत्री शिवपुर बाईपास से बाबतपुर की ओर रवाना हुए तो उनको लेने राजकीय विमान एयरपोर्ट करीब 10.50 बजे पहुंच गया।

Edited By: Abhishek Sharma