वाराणसी, जागरण संवाददाता। राज्यस्तरीय संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा छह जुलाई को दो पालियों में होगी। 162178 परीक्षार्थियों के लिए पूर्वांचल के दस जिले में 380 केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा आयोजित संस्था ने महात्मा ज्योतिबा फुले रूहेलखंड विश्वविद्यालय (बरेली) ने बीएचयू और महात्‍मा गांधी काशी विद्यापीठ को नोडल सेंटर बनाया है। परीक्षा आयोजित संस्था ने प्रवेश पत्र भी आनलाइन कर दिया है। परीक्षार्थी बीएड जेईई परीक्षा आधिकारिक वेबसाइट www.upbed2022.in से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। 

दो पालियों में परीक्षा

प्रथम पाली सुबह नौ बजे से दोपहर 12 बजे तक
द्वितीय पाली दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक

परीक्षा की मद्देनजर एक बैठक चार जुलाई को दोपहर तीन बजे महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के गांधी अध्ययनपीठ के सभागार में बुलाई गई है। इसमें बीएचयू व काशी विद्यापीठ नोडल केंद्रों से जुड़े सभी 108 केंद्राध्यक्षों, स्टैटिक मजिस्ट्रेट, पर्यवेक्षकों, , नोडल समन्वयकों को बुलाया गया है । बैठक में महात्मा ज्योतिबा फुले रूहेलखंड विश्वविद्यालय (बरेली) के प्रतिनिधि भी शामिल रहेंगे।

परीक्षा एलआइयू सहित खुफिया विभाग की भी रहेगी नजर : परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने से आधा घंटा पहले केंद्रों पर बुलाया गया है। वहीं परीक्षा के दौरान केंद्रों के 500 मीटर की परिधि फोटो स्टेट व साइबर कैफे की दुकानें में बंद रहेंगी। सभी केंद्रों को शुचिता पूर्वक परीक्षा कराने का निर्देश दिया गया है परीक्षा एलआइयू सहित खुफिया विभाग की भी नजर रहेगी।

आंकड़ों में देखें परीक्षा

108 परीक्षा केंद्र
45461 परीक्षार्थी
216 पर्यवेक्षक
46 सेक्टर मजिस्ट्रेट

वाराणसी में 108 केंद्र : राज्यस्तरीय संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा छह जुलाई को वाराणसी में 108 केंद्रों पर दो पालियों में होगी। परीक्षा आयोजक संस्था रुहेलखंड विश्वविद्यालय (बरेली) ने महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ व बीएचयू को नोडल सेंटर बनाया है। आयोजक संस्था ने विद्यापीठ को 27400 व बीएचयू को 18061 परीक्षार्थियों की परीक्षा कराने की जिम्मेदारी सौंपी है। दोनों विश्वविद्यालय शुचिता पूर्वक परीक्षा कराने की तैयारी में जुटे हुए हैं।

Edited By: Abhishek Sharma