बलिया (जेएनएन) : ससुरालियों द्वारा विदाई न करने से क्षुब्ध पति ने मंगलवार को सुबह घर से कोचिंग के लिए साइकिल से निकली अपनी पत्नी संध्या भारती 22 वर्ष की रास्ते मे जूडनपुर डिहवा माइनर पर चाकू से गोद कर हत्या कर दी। हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद पति मनीष कुमार 25 वर्ष ने घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर स्थित अपने ससुराल मे जाकर संध्या की हत्या की बात बताने के बाद एक कमरे में अपने ऊपर पेट्रोल उडेल कर आग लगा लिया जिससे वह गंभीर रुप से झुलस गया। उसे बचाने के प्रयास मे सास दुलारी देवी 55 वर्ष भी झुलस गईं। गंभीरावस्था मे दोनो को गांव वाले तुरंत पीएचसी नगरा ले गए जहां प्राथमिक चिकित्सा के बाद डाक्टरों ने बलिया सदर अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

इधर संध्या की मौत की खबर मिलते ही परिजनों मे कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम हेतु बलिया भेज दिया। जूडनपुर अनुसूचित बस्ती निवासी नन्दलाल भारती की शादी उभांव थाना क्षेत्र के कुशहीं निवासी मनीष कुमार भारती के साथ 12 मई 2016 को हुई थी। शादी के बाद विदा होकर संध्या अपनी ससुराल गई। संध्या के मायकेवालों का आरोप है कि ससुराल मे पति संध्या को बराबर प्रताडित करता था। कई बार मारा पीटा था। इसकी खबर जब संध्या के पिता नंदलाल को मिली तो वह मई 2018 मे विदा करा कर उसे घर ले आए।

इसके बाद संध्या कभी भी ससुराल न जाने की जिद पर अड गई। बीच में पंचायत भी हुई किंतु बात नही बनी। उसका पति मनीष विदाई के लिए दबाव बनाने लगा इधर संध्या पति के यहां न जाने की जिद ठाने बैठी थी। संध्या प्रतिदिन की तरह घटना के दिन सुबह घर से साइकिल से नगरा कोचिंग के लिए निकली थी। उसका पति घर से कुछ ही दूरी पर पहले से ही घात लगा कर छिपा हुआ था। पत्नी को देखते ही वह उस पर चाकू से ताबडतोड वार कर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद वह दौड कर ससुराल पहुंचा व कमरे मे घुस कर पाकेट में पहले से छिपाए पेट्रोल को अपने शरीर पर उडेल कर आग लगा लिया। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने धान के खेत से घटना में प्रयुक्त चाकू को बरामद कर लिया। सूचना पर पहुंची एसपी श्रीपर्णा गांगुली व सीओ केपी सिंह ने घटना के बावत परिजनो सहित थानाध्यक्ष से विस्तृत जानकारी हासिल की।

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप