गाजीपुर, जेएनएन। दानापुर रेलमंडल के दिलदारनगर रेलवे स्टेशन के स्टार्टर और एडवांस सिग्नल के बीच गुरुवार की सुबह 6.45 बजे डाउन मेल लाइन में जनसाधारण एक्सप्रेस ट्रेन गुजरने के बाद रेल पटरी टूट गई। संयोग ठीक था कि टूटी रेल पटरी पर की मैन उजागिर राम की नजर पड़ गयी। की मैन ने तत्काल इसकी जानकारी स्टेशन को दी वहां से सूचना दानापुर नियंत्रण कक्ष को अग्रेषित कर दी गई। इसके बाद अधिकारियों ने सक्रियता दिखाते हुए रेल पटरी को दुरुस्‍त किया। 

सूचना पर पहुंचे रेल पथ विभाग के कर्मचारियों ने टूटी पटरी को थोड़ी देर बाद ही दुरुस्त कर दिया तब जाकर 7.38 बजे ट्रेनों का परिचालन बहाल हुआ। इसके बाद काशन पर 30 किमी की रफ्तार से ट्रेनों काे आगे की ओर बढ़ाया गया। इस कारण 0791 सिकंदराबाद रक्सौल 6.58 से 7.37 तक और पीडीडीयू - पटना ईएमयू दिलदारनगर रेलवे स्टेशन पर खड़ी रही। इसकी वजह से यात्रियों को भी काफी फजीहत का सामना करना पड़ा। हालांकि घंटे भर तक कई ट्रेनें प्रभावित होने से रेलवे अधिकारियाें के भी माथे पर बल बना रहा। जबकि रेलवे प्रशासन की सक्रियता की वजह से भी पटरियों के चटकने और उनकी निगरानी को लेकर सर्दी भर काफी रेलवे को काफी समस्‍याओं का सामना करना पडता है। 

वहीं दूसरी ओर 12368 विक्रमशिला एक्सप्रेस दरौली में खड़ी रही। सहायक रेल पथ निरीक्षक निर्मल कुमार ने बताया कि टूटी रेल पटरी को पूरी तरह से बदला जाएगा। तब तक काशन 30 में डाउन लाइन की ट्रेनों को चलाने का मेमो स्टेशन के माध्यम से दानापुर नियंत्रण कक्ष को दिया गया है। बताते चलें कि सर्दियों में रेल पटरी चटकने की काफी घटनाएं सामने आती हैं। वहीं प्रमुख रेल मार्ग होने की वजह से गाजीपुर रेलखंड सर्दियों में काफी प्रभावित होता है। वहीं त्‍योहारों का भी सीजन शुरू होने से इन दिनों रेलगाडियां काफी भरी हुई चल रही हैं।

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप