जागरण संवाददाता, वाराणसी। रामनगर क्षेत्र के सामनेघाट को जोड़ने वाले पुल पर महीनों से बंद पड़े लाइट की मरम्मत न होने से आक्रोशित भाजपा सभासद संतोष शर्मा व पूर्व सभासद कुसुमलता शर्मा ने शनिवार को धरना। आरोप लगाया कि कई बार अधिकारियों से शिकायत करने के बावजूद भी मरम्मत नहीं कराई गई। अगर अतिशीघ्र लाइट की मरम्मत नहीं कराई गई तो भाजपा कार्यकर्ता सड़क पर उतरने के लिए बाध्य होंगे।

सभासद संतोष शर्मा का कहना था कि रामनगर सामने घाट को जोड़ने वाला पुल महीनों से अंधेरे में पड़ा है। इस पुल पर दोनों तरफ लगे लाइट महीनों से बंद पड़े हैं। इसके मरम्मत की सुधि संबंधित विभाग के अधिकारी और कर्मचारी नहीं ले पा रहे है। यह पुल आसपास के कई जिलों को बनारस से जोड़ता है। इस पुल से बीएचयू एवं ट्रामा सेंटर नजदीक पड़ता है। अधिकांश लोग इस पुल से गुजरते हैं। पुल से ज्यादातर दिहाड़ी मजदूर, मरीज व छात्रों का आना जाना लगा रहता है। रात में अंधेरा होने की वजह से कई बार हादसा भी हो चुका है। इसके बावजूद कोई भी प्रयास रोशनी के लिए नहीं किया जा रहा है। बताया कि अगर समस्‍या का समाधान नहीं हुआ तो कार्यकर्ता धरना प्रदर्शन के साथ ही सड़क पर उतरने को बाध्‍य होंगे। 

अंधेरा होने के कारण पैदल यात्रियों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और दुर्घटना होने की ज्यादा संभावना बनी रहती है। पैदल आने जाने वाली महिलाओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पुल के बीच में सुंदरीकरण के लिए लगाए गए लाइट भी बंद पड़े हुए। सुनील उपाध्याय, अजीत कुमार प्रजापति, गोविंद प्रसाद, सतनारायण साहनी, मुन्नू, सोमारु राज आदि शामिल रहे। इस दौरान स्‍थानीय लोग भी मौजूद रहे और धरना प्रदर्शन को अपना समर्थन दिया। 

Edited By: Abhishek Sharma