मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जौनपुर, जेएनएन। मछलीशहर क्षेत्र के जुड़ऊपुर गांव में कमरे में अकेले रह रहे अधेड़ की रविवार को सड़ी-गली लाश मिलने से रविवार को सनसनी फैल गई। वहीं मुंबई में रह रहे बेटे और पत्नी के आकर दाह संस्कार करने से इन्कार कर देने पर पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद दाह संस्कार कराया। 

गांव निवासी गजराज ङ्क्षसह (52) घर में अकेले रहते थे। कमरे से बदबू आने पर पास-पड़ोस के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पहुंचकर कमरा खोलवाया तो उनकी सड़ी-गली लाश मिली। पड़ोसियों ने मुंबई में रह रही उनकी पत्नी साधना सिंह, बेटे किशन सिंह और विवाहिता पुत्री जूली सिंह को सूचना दी। परिजनों ने आने और दाह संस्कार करने से साफ मना कर दिया। घर पर मौजूद परिवार के अभय राज सिंह, धर्म राज सिंह आदि ने भी किसी विवाद में फंसने की आशंका से किनारा कस लिया।

कोतवाल अनिल कुमार सिंह ने शव का पोस्टमार्टम कराया और ग्राम प्रधान की सहमति से निजी व्यय पर अंत्येष्टि कराई। सूत्र बताते हैं कि मृत गजराज सिंह अपने हिस्से की अधिकतर जमीन बेच चुके थे। इससे क्षुब्ध होकर उनके अपनों ने किनारा कस लिया था। वह काफी दिनों से बीमार चल रहे थे। चोट लगने और इलाज न होने के चलते शरीर में सडऩ हो गई थी। 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप