वाराणसी, जेएनएन। पं. दीनदयाल उपाध्याय चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कोरोना पाजिटिव दवा कारोबारी प्रशांत उपाध्याय की रिपोर्ट निगेटिव आ गई है। उसे शुक्रवार को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। बाहर निकलते ही मंडुआडीह पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया और एंबुलेंस से जगतपुर कालेज में बने अस्थाई जेल भेज दिया।

दवा कारोबारी के खिलाफ 27 अप्रैल को मंडुआडीह में मुकदमा पंजीकृत किया गया था। सप्तसागर मंडी के दवा कारोबारी प्रशांत उपाध्याय के सैंपल की रिपोर्ट 24 अप्रैल को पाजिटिव आई थी। वह 20 अप्रैल को डीडीयू अस्पताल में जांच के लिए गया था। खांसी, बुखार की शिकायत पर डाक्टरों ने सैंपल लिया और होम क्वारंटाइन का निर्देश दिया लेकिन उसने अवहेलना की। सप्तसागर दवा मंडी में अपनी दुकान पर लगातार बैठता रहा। परिवारीजन के संपर्क में रहा। इसके चलते परिवार के सदस्यों के साथ ही अब तक 13 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। यह संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि दवा कारोबारी के संपर्क में आने वाले लोगों की जांच रिपोर्ट अभी जिला प्रशासन के हाथ नहीं आई है।

27 अप्रैल को दर्ज हुआ था मुकदमा

एसएसपी प्रभाकर चौधरी के आदेश पर 27 अप्रैल को लॉकडाउन व होम क्वारंटाइन से संबंधित नियमों की अवहेलना करने पर दवा कारोबारी प्रशांत उपाध्याय निवासी सेंट जॉन्स कालोनी मड़ौली के खिलाफ मंडुआडीह थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। शुक्रवार को दवा कारोबारी के स्वस्थ होने की जानकारी मिलने पर एसओ मंडुआडीह महेंद्र प्रजापति, मढ़ौली चौकी प्रभारी अजय दुबे सुबह 10.30 बजे डीडीयू अस्पताल पहुंचे। एंबुलेंस उपलब्ध कराकर नियमानुसार गिरफ्तार कर अस्थाई जेल भेज दिया। 

कोरोना की चेन बनाने में दवा कारोबारी, पुलिस पीछे-पीछे

मड़ौली निवासी दवा कारोबारी तब्लीगी जमात के लोगों की तरह ही बनारस के लिए घातक सिद्ध हुआ। लॉकडाउन के दिशा-निर्देशों की धज्जियां उड़ाने वाले दवा कारोबारी के चलते उसके परिवार के सदस्यों के साथ ही अब तक 13 लोग संक्रमण का शिकार हो चुके हैं। ये दायरा अभी और बढ़ेगा क्योंकि दवा कारोबारी के संपर्क में आए कई लोगों की जांच रिपोर्ट अभी जिला प्रशासन के हाथ नहीं आई है।

तीसरे नंबर पर सिगरा पुलिस है। सिगरा पुलिस ने भी अपने कप्तान की बात नहीं मानी जिसके चलते आज नगर निगम चौकी पर ताला चढ़ा है। शारीरिक दूरी का ध्यान नहीं रखने व अन्य मानकों को पूरा नहीं करने के चलते अब तक 11 पुलिसकर्मी कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस