वाराणसी (जेएनएन)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिनी दौरे पर आज अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी स्थित बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर स्वागत करने राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस दौरान मौजूद रहे। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि एक ही मंच से एक हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के लागत के प्रकल्पों का लोकार्पण व शिलान्यास होने जा रहा है। मैं सबसे पहले उप्र सरकार का आभारी हूं कि बनारस सहित पूर्वी उप्र के विकास के लिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आज पौने तीन सौ करोड़ रूपये से जिस प्रकल्प का लोकार्पण हो रहा है वैसी पिछले कई दशकों में योजना पर कार्य नहीं हुआ है। जिसका शिलान्यास हम करते हैं उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं। शिलान्यास होते हैं, योजनाएं काफी धीमी गति से पूरी होती रहती हैं। कितने लंबे समय से पुल निर्माण प्रभावित था। उस पार के लोगों के लिए विकास के लिए नए दरवाजे खुले हैं।

यह भी पढ़ें: हरदोई में दारोगा के खिलाफ धरने पर बैठे भाजपा विधायक ने अन्न त्यागा

मोदी ने कहा कि आज यहां स्वर्णिम अवसर है बुनकरों और शिल्पकारों के लिए क्योंकि आपको पूर्वजों से कौशल्य प्राप्त है, आपमें सामथ्र्य है, लेकिन जंगल में मोर नाचा किसने देखा? अगर यही हाल रहता तो काशी क्षेत्र के बुनकर और शिल्पकार भाइयों को कभी विश्व के सामने अपनी कला के प्रदर्शन का मौका नहीं मिलता। मेरे भाई बहन जो अपनी कलाकारी शिल्पकारी से जो निमार्ण करते हैं उसे वैश्विक बाजार नहीं मिलेगा तो आर्थिक गति भी रुक जाएगी। पहली बार सांसद बन कर आया था तो आपने बताया कि परिवार के युवा अब शिल्पकला से जुडऩा नहीं चाहते। ऐसे में आर्थिक विकास अगर टूट जाएगा तो आने वाला इतिहास हमें माफ नहीं करेगा। जैसे जैसे युग आगे बढ़ रहा है भारत के प्रति आकर्षण भी दुनिया में बढ़ रहा है। ये संकुल मात्र इमारत नहीं है यह भारत के सामथ्र्य का परिचय कराने वाली इमारत है। ये काशी के शिल्पाकारों और बुनकरों के लिए है जो भविष्य के दरवाजे खोलने का ताकत रखती है।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन से पहले वाराणसी में सड़कों पर आक्रोशित छात्राएं

मैं काशी के आटो चालकों से निवेदन करूंगा कि जो टूरिस्ट आता है उसे यहां ले आइए। एक ही जगह उसे काशी के सामथ्र्य का दर्शन हो जाएगा। यहां विदेशी टूरिस्ट आएगा तो हटने का नाम तक नहीं लेगा। यह म्यूजियम काशी के टूरिज्म को बढ़ावा देगा। जो इसे देखेंगे यकीनन काशी के सामथ्र्य को जानेंगे। इससे काशी के कला कौशल्य को ताकत मिलेगी और यह आर्थिक गतिविधि का बड़ा केंद्र बनेगा। यह सौगात देते हुए हृदय से शुभकामना भी देता हूं। हर समस्या का समाधान आर्थिक विकास में निहित  है। पहले की सरकारों को विकास से नफरत थी। उनकी तिजोरी चुनाव जीतने के लिए ही थी। मगर मेरा प्रयास गरीबों को सशक्त करने का है। गरीबों को काम करने का अवसर मिल जाए तो हिंदुस्तान का कोई गरीब कभी गरीब नहीं रहेगा। गरीब से पूछिए आपने जैसी जिंदगी बिताई क्या बच्चों के लिए भी ऐसी जिंदगी पसंद करेंगे? गरीब कहेगा मेरे नसीब में जो था भुगता, अपनी जिंदगी काट ली मगर नहीं चाहता आने वाली पीढ़ी भी ऐसी जिंदगी को जिये। उनमें विरासत में गरीबी देने की इच्छा नहीं है। नया काम करने के साथ गरीबों को सम्मान के साथ जीने वाला बनाना चाहता हूं। मेरी सरकार का वहीं सपना है जो गरीब का अपनी भावी पीढ़ी के लिए है। विशेष कर उत्कर्ष बैंक द्वारा इस काम के लिए बल दिया जा रहा है। जिस समर्पण भाव से टीम लगी है वह बधाई की पात्र है। काशी में आज वाटर एंबुलेंस और जल शव वाहिनी का लोकार्पण हुआ।

यह भी पढ़ें: 200 करोड़ खर्च होंगे, फिर भी लखनऊ में सड़क पर ही बहेगा सीवर

मैने कहा था कि काशी की समस्या और लोगों की समस्या के निराकरण के लिए जलमार्ग का प्रयोग करना चाहिए। उसे आर्थिक विकास से जोडऩा है। हमने प्रयास शुरू किए हैं उसी के तहत यह लोकार्पण हुआ है। जब बनारस चुनाव लडऩे आया था तो वड़ोदरा में भी लड़ा था लेकिन छोडऩे की बात आई तो सोचा वहां आगे बढ़ाने में कई लोग लगे हैं। लेकिन काशी के लिए समय खपाता हूं तो शायद जीवन के लिए सौभाग्य से कम नहीं है। आज बड़ोदरा और बनारस महामना एक्सप्रेस से जुड़ रहे हैं। महामना एक्सप्रेस बनारस पहुंचेगी तो गुजरात के टेक्सटाइल उद्योग से इसे जोडऩा संभव होगा। ऐसी रेल की व्यवस्था नागरिकों संग आर्थिक गतिविधि के लिए भी जरूरी थी। अब लंबा समय नहीं लेना चाहता। गरीब और मध्यम वर्ग को लेकर प्रयास हो रहा है। मुद्दतों से लटकी योजनाओं पर निर्णय किया जा रहा है। उसका परिणाम दुनिया देख रही है कि भारत अब बदल रहा है। हमें पूर्वी भारत को बदलना है, जैसी पश्चिम की ताकत है वैसा पूरब भी बने। यहां आर्थिक सामाजिक इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव आए सभी चाहते हैं। राज्य सरकार ने छह माह के अल्प समय में कमाल किया है। हम प्रदेश सरकार को इसके लिए बधाई देते हैं। 

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने कहा की प्रधानमंत्री ने आज एक हजार करोड़ से अधिक कल्याण कारी योजनाओं का उदघाटन  किया है। कई वर्षों से लंबित कई योजनायें आज शुरू हुई हैं। लेकिन आज गरीब जनता की कई योजनायें समर्पित की गई हैं। वस्त्र मंत्रालय ने गरीबों को सम्मान बढ़ाने का काम किया है। योगी ने अपने 17 सितंबर के काशी दौरे का जिक्र किया, आज हुई वर्षा का जिक्र किया। योगी बोले - सूखे से परेशान किसानों के लिए आज वर्षा भी मेहरबान हो गई। मानों एक मां अपने पुत्र का स्वागत कर रही हो।

पीएम नरेंद्र मोदी ने बडा लालपुर स्थित दीनदयाल हस्तकला संकुल का उद्घाटन किया। इसका शिलान्यास भी पीएम नरेंद्र मोदी ने ही किया था। उदघाटन के बाद पीएम ने संकुल का दौरा कर विविध हस्तकलाओं का अवलोकन किया और अधिकारियों से व्यवसायिक गतिविधियों के बाबत जानकारी भी ली। इस दौरान केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल राम नाईक और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे। अद्भुत ट्रेड सेंटर दीनदयाल संकुल फेज - 2 का प्रधानमंत्री ने फीता काटकर किया शुभारंभ। शिल्पियों व बुनकरों के लिए संजीवनी प्रदाता। यहां रख सकेगे अपने निर्माण का माडल। 

देखें तस्वीरें : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वाराणसी पर तोहफों की बौछार

बड़ा लालपुर ट्रेड सेंटर दरअसल दो फेस की परियोजना थी। प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी ने काशी में इस महत्वाकांक्षी परियोजना का स्वप्न देखा था मगर सपा सरकार के चलते मामला लटका रहा। अंतत: केंद्र ने लालपुर में अपनी ही अर्थात केंद्रीय लोक निर्माण विभाग की जमीन पर इसके निर्माण का फैसला लिया। इससे पहले करीब एक वर्ष पहले इसका पहला फेज बनकर तैयार हुआ, पीएम के हाथों लोकार्पित भी हुआ। आज इसका दूसरा फेज भी पीएम मोदी के हाथों लोकार्पित।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर सेना का हेलीकाप्टर वाराणसी के बड़ा लालपुर पहुंचा । जोरदार बारिश के बाद पीएम का हेलिकाप्टर उड नहीं सका था। लगभग पंद्रह मिनट के बाद मौसम साफ होते ही पीएम का हेलिकाप्टर रनवे पर लाया गया और यहां से कार्यक्रम स्थल की ओर रवाना हो गया। इस दौरान 3:04 बजे से लेकर 3:34 बजे तक पीएम लगभग आधे घंटे तक सेना के हेलिकाप्टर में ही बैठे रहे। महामना एक्सप्रेस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनारस में शुभारंभित करेंगे प्रधानमंत्री जबकि गुजरात के शहर वड़ोदरा में इसके लिए आयोजित कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल मौजूद हैं ।

वाराणसी में पीएम 18 परियोजनाओं का लोकार्पण व दस बड़ी परियोजनाओं के शिलान्यास के साथ बनारस सहित पूरे पूर्वांचल को विकास की गति देंगे। हवाई अड्डे के एप्रन पर विमान से उतरते ही सूबे के राज्यपाल राम नाईक व सीएम योगी आदित्यानाथ ने आगवानी की इस दौरान आईजी, डीआइजी, एडीजी,  जिलाधिकारी, एसएसपी, कमिश्नर, एसडीएम पिण्डरा, सीआइएसएफ के डिप्टी कमांडेंट सुब्रत झा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे। मुख्य टर्मिनल भवन के सीआइपी लाउंज में पहुंचे पीएम को बुके भेंटकर सांसद मछलीशहर रामचरित्र निषाद, मंत्री नीलकंठ तिवारी, चैयरमैन अपराजिता सोनकर, विधायक डॉ अवधेश सिंह, सुशील सिंह, सौरभ श्रीवास्तव, एमएलसी लक्षमण आचार्य  के अलावा बीजेपी के अन्य नेताओं ने स्वागत किया।

यह पहला मौका है जब प्रधानमंत्री के साथ-साथ राज्यपाल राम नाईक व मुख्यमंत्री योगी भी काशी में मौजूद होंगे और रात भी यहीं गुजारेंगे। प्रधानमंत्री के हाथों लोकार्पित होने वाली परियोजनाओं में कृषकों, शिल्पियों, बुद्धिजीवियों व पुलिस महकमे के लिए तो बहुत कुछ है ही, आमजन के लिए भी तोहफों का पूरा गुलदस्ता है। दरअसल विकास की पहली शर्त, सुगम यातायात के नजरिए से देखें तो पूर्वांचल की यह कृषि पट्टी बहुत समृद्ध नहीं है। यह कमी इस बार पीएम के हाथों दूर हो रही है।

एक नहीं, दो गंगा पुलों का लोकार्पण कर प्रधानमंत्री पूर्वी उत्तर प्रदेश के साथ ही पश्चिमी बिहार की बहु विधि संबद्धता को नया आयाम व विकास को द्रुत गति प्रदान करेंगे। बलुआघाट व सामनेघाट में निर्मित इन दो विशाल गंगा पुलों से न केवल बड़े भूभाग में यातायात सुगम होगा, दूरी घटेगी वरन कारोबार को भी पंख लगेंगे। पूर्वांचल में गंगा पर अब तक केवल पांच पुल थे, इन दो पुलों के लोकार्पित होते ही इनकी संख्या अब सात हो जाएगी।

इसके अलावा पूर्वांचल के शिल्पियों व बुनकरों के लिए जहां ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर कारोबारी संजीवनी का काम करेगा वहीं शाहंशाहपुर में गंगातीरी गायों के संरक्षण व संवर्द्धन के लिए लगने वाला मेला व सभा किसानों के लिए बेहद लाभकारी होगी। उत्तर प्रदेश में आगामी निकाय चुनाव के साथ ही सन 2019 के लोकसभा चुनाव की जोरदार तैयारी कर रही भारतीय जनता पार्टी को भी पूरब पट्टी में पीएम मोदी के इस दौरे से नई ऊर्जा मिलेगी।

टिकट होंगे जारी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिन 11 टिकटों के सेट को जारी करेंगे, उन पर श्रीराम की जीवनगाथा है। पूरी शीटलेट पर श्रीराम की लीला का पूरा दृश्य दिखेगा। श्रीराम-सीता स्वयंवर से राजगद्दी तक के दृश्य उकेरे गए हैं। टिकट पर इलाहाबाद के सोरांव तहसील स्थित शृंगवेरपुर की उस ऐतिहासिक फोटो को भी स्थान मिला है जिसमें श्रीराम, लक्ष्मण और सीता के साथ नाव पर सवार होकर नदी पार कर रहे हैं।

इसी रास्ते से श्रीराम 14 वर्ष के लिए वनवास पर गए थे। पीएम के हाथों लोकार्पित होने वाले इस टिकट की कीमत 65 रुपये होगी। शीटलेट पर सीता स्वयंवर, राम वनवास, भरत मिलाप, केवट प्रसंग, जटायु संवाद, सबरी संवाद, अशोक वाटिका में हनुमान-सीता संवाद, राम सेतु निर्माण, संजीवनी ले जाते हनुमान, रावण वध व श्रीराम की राजगद्दी का आकर्षक दृश्य समाहित है। पोस्ट मास्टर जनरल केके भगत ने बताया कि प्रधानमंत्री द्वारा रामायण पर आधारित डाक टिकट वाराणसी के मानस मंदिर में जारी किया जाएगा।

सुरक्षा चाक चौबंद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो दिवसीय दौरे के दौरान सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं। अत्याधुनिक हथियारों, राकेट लांचर से लैस वायुसेना के हेलीकाप्टर आसमान से तो जमीन पर एसपीजी, अर्धसैनिक बल और पुलिस के साथ आरपीएफ के लगभग आठ हजार जवान सुरक्षा में तैनात हैं। गंगा में पीएसी व एनडीआरएफ के जवान लगातार चक्रमण कर रहे हैं। इससे पूर्व मोदी के आगमन को देखते हुए गुरुवार को ही मुख्य सचिव राजीव कुमार व डीजीपी सुलखान सिंह वाराणसी पहुंच गए। सूबे के दोनों आला अफसरों ने डीरेका, पुलिस लाइन, शाहंशाहपुर, बड़ालालपुर, मानस मंदिर, दुर्गा मंदिर का निरीक्षण किया। निरीक्षण से पहले डीजीपी व मुख्य सचिव ने डीरेका में पीएम ड्यूटी में तैनात अफसरों के साथ बैठक की।

खास निर्देश दिए कि वीवीआइपी के आगमन के दौरान उनकी ओर मुंह करने के बजाय जनता की तरफ अपनी निगाह रखेंगे। किसी को भी बिना जांच-पड़ताल के प्रवेश नहीं देंगे। किसी के साथ अभद्र व्यवहार की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। फोर्स की ब्रीफिंग के बाद जवानों को उनके ड्यूटी प्वाइंट पर रवाना कर दिया गया। डीरेका में पीएम रात्रि विश्राम करेंगे इसलिए यहां की सुरक्षा-व्यवस्था पर विशेष जोर दिया। उधर एसपीजी ने डीरेका गेस्ट हाउस को गुरुवार को ही अपने कब्जे में ले लिया है। ब्रीफिंग के बाद एसपीजी के अधिकारियों ने पुलिस अधिकारियों के साथ ग्रैंड डमी रिहर्सल किया। एयरपोर्ट से लेकर पुलिस लाइन, डीरेका, बड़ालालपुर, शाहंशाहपुर, मानस मंदिर तक काफिला गया।

कैद रहेंगे डीरेका अधिकारी : हेलीपैड से लेकर अतिथिगृह के बीच पडऩे वाले अधिकारी आवासों के गेट पर बैरियर लगा दिया गया है जो प्रधानमंत्री के मौजूदगी के दौरान गिरे रहेंगे। पीएम यहां पर रात्रि विश्राम करेंगे आैर कुछ लोगों से मुलाकात भी प्रस्‍तावित है।

तैनात होंगे स्नाइपर : बड़ालालपुर स्टेडियम के आसपास कई ऊंची इमारतों को देखते हुए एसपीजी ने इलाके में स्नाइपर तैनात करने का निर्णय गुरुवार को ही लिया गया। शाहंशाहपुर के अलावा दुर्गाकुंड इलाके में भी स्नाइपर तैनात किए गए हैं जो सुरक्षा को और भी पुख्‍ता करेंगे।

इन 17 योजनाओं का लोकार्पण :
-सामनेघाट गंगा पुल
-बलुआघाट गंगा पुल
-ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर फेज-2
-कज्जाकपुरा उपकेंद्र
-गरथौली उपकेंद्र
-उत्कर्ष बैंक मुख्यालय
-मालवीय एथिक्स सेंटर, बीएचयू
-पहडिय़ा एसटीपी
-दुर्गाकुंड सुंदरीकरण
-लक्ष्मीकुंड सुदरीकरण
-सारंगनाथ तालाब का सुंदरीकरण
-आराजी लाइन सीएचसी में 30 बेड का जच्चा-बच्चा केंद्र
-चोलापुर थाने में 80 लोगों का बैरक
-बुद्धा थीम पार्क, सारनाथ
-गुरुधाम मंदिर का विकास कार्य
-मारकंडेय धाम कैथी का सुंदरीकरण
-कैथी में गंगा घाट का विकास

इन पांच का शिलान्यास :
-नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत गृह जल संयोजन का कार्य
-नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत सीवर संयोजन
-सात पार्कों का सुंदरीकरण
-बाबा दरबार में अन्न क्षेत्र
-गंगा किनारे रमना एसटीपी
-चिकित्सा सेवा में तीन : बीएचयू में 100 बेड का मदर चाइल्ड हेल्थ विंग, डीडीयू कैंपस में 50 बेड का महिला चिकित्सालय, मंडलीय के साथ ही डीडीयू व रामनगर अस्पताल का उच्चीकरण।

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम :
-बड़ा लालपुर में ट्रेड सेंटर
-शाहंशाहपुर में गंगातीरी मेला
-वाराणसी से वड़ोदरा के बीच चलने वाली महामना एक्सप्रेस का शुभारंभ
-जनता संग दुर्गा मंदिर में दर्शन
-शहरी आवास योजना के 5500 लाभार्थियों को देंगे प्रमाण पत्र
-सभी परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास बड़ा लालपुर से

वीवीआइपी का जमावड़ा :
-पीएम का रात्रि विश्राम डीरेका में
-राज्यपाल होंगे सर्किट हाउस में
-मुख्यमंत्री होंगे सर्किट हाउस में
-केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी डीरेका में।
-उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य रात्रि विश्राम करेंगे सर्किट हाउस में।

यह भी पढ़ें: हरदोई में दारोगा के खिलाफ धरने पर बैठे भाजपा विधायक ने अन्न त्यागा

भाजपा के पूर्वी उत्तर प्रदेश मीडिया प्रभारी संजय भारद्वाज ने बताया कि प्रधानमंत्री से अपने दो दिनों के दौरे के तहत वाराणसी में 17 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा छह परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे।

पीएम नरेंद्र मोदी का 'मिनट टू मिनट' कल

सुबह 9:05 बजे डीएलडब्लू से आराजीलाइन स्तिथ पशुधन केंद्र प्रक्षेत्र हेलीकॉप्टर से । 

9:35 बजे सड़क मार्ग से आराजीलाइन स्तिथ शहंशाहपुर।

9:40 बजे अनुसूचित जाति बस्ती में स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लेंगे।

9:55 बजे आराजीलाइन स्थित पशुधन फार्म हाउस

10 बजे पशुधन आरोग्य मेला, पीएम आवास लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र का वितरण व जनसभा

11 :45 पर हेलीकॉप्टर से बाबतपुर एयरपोर्ट प्रस्थान

12 :10 बजे एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए प्रस्थान।

यह भी पढ़ें: राम ने वानरों को साथ लिया, मनुष्य साथ होते तो धोखा खाते : शिवपाल

Posted By: Amal Chowdhury

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप