मीरजापुर, जेएनएन। हलिया थानाक्षेत्र के एक गांव में हाईस्कूल की नाबालिग छात्रा को सोमवार रात जिगना थानाक्षेत्र के चार युवकों द्वारा फोन से बहला-फुसलाकर घर के बाहर बुलाया गया। आरोप है कि किशोरी को पुलिस लिखी गाड़ी में बैठाया गया व जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया गया। रात में जंगल की तरफ से भाग रहे आरोपितों को ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने पकड़ा। इसके बाद के घटनाक्रम में पिता की तहरीर पर चारों युवकों पर पाक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया।

स्थानीय पुलिस सोमवार रात चारों युवकों व किशोरी को पकड़कर थाने ले आई तथा किशोरी के परिजनों को सूचना दी गई। मंगलवार सुबह थाने पहुंचे लड़की के पिता ने चारों युवकों के विरुद्ध तहरीर देकर सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। दी गई तहरीर में किशोरी के पिता ने आरोप लगाया कि चारों युवकों ने बेटी को फोन कर बहला-फुसलाकर घर से बाहर बुलाकर अपनी गाड़ी में बैठाकर जंगल की तरफ ले गए और सभी ने नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक दुराचार किया। प्रभारी निरीक्षक देवीवर शुक्ल ने बताया कि लड़की के पिता की तहरीर पर चार युवकों जय प्रकाश मौर्य पुत्र बृजलाल, निवासी छोटी सिहावल, लवकुश कुमार पाल पुत्र राधिका प्रसाद निवासी यादवपुर, महेंद्र कुमार यादव पुत्र त्रिलोकी नाथ निवासी महुआ, गणेश प्रसाद बिंद पुत्र रामदास निवासी लंबी पट्टी सभी जिगना थानाक्षेत्र के खिलाफ पाक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

सीआरपीएफ जवान भी आरोपित

किशोरी के साथ दुष्कर्म मामले में आरोपित महेंद्र कुमार यादव सीआरपीएफ का जवान है जबकि एक अन्य आरोपित रिटायर्ड पुलिसकर्मी का बेटा है। चारों आरोपित व उनकी गाड़ी पुलिस की हिरासत में है। गाड़ी को सीज कर दिया गया है। किशोरी को मेडिकल के लिए भेजा जा रहा है। दोपहर बाद पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह ने भी मौके पर जांच पड़ताल की और पीडि़त परिवार वालों से भी पूछताछ की है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस