वाराणसी, जेएनएन। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ प्रशासन ने 18 अक्टूबर को एलएलबी की प्रवेश परीक्षा स्थगित कर दी है। इसी दिन हरिश्चंद्र पीजी कालेज की एलएलबी की प्रवेश परीक्षा है। विद्यापीठ प्रशासन ने हरिश्चंद्र पीजी कालेज को भी परीक्षा केंद्र बनाया था। कई अभ्यर्थियों ने विद्यापीठ के अलावा हरिश्चंद्र कालेज में भी दाखिले के लिए आवेदन किया है। इसे देखते हुए विद्यापीठ प्रशासन ने अब एलएलबी की प्रवेश परीक्षा अगले चरण में कराने का निर्णय लिया है।

कुलसचिव डा. एसएल मौर्य ने बताया कि एलएलबी को छोड़कर शेष दस पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षाएं 18 अक्टूबर पूर्व निर्धारित पालियों में ही होंगी। प्रथम पाली में सुबह नौ बजे से 11 बजे तक एमएड, बीपीएड, बीए (मास कम्यूनिकेशन), एक वर्षीय पीजी डिप्लोमा इन साइकोथेरेपी काउंसिलिंग एंड गाइडेंस, एक वर्षीय डिप्लोमा गायन, पीजी डिप्लोमा इन नेचुरोपैथी एंड योगा, एमफिल (हिंदी) तथा द्वितीय पाली में दोपहर तीन बजे से शाम पांच बजे तक एमए/एमएससी (मैथ) एमए (मनोविज्ञान व समाजशास्त्र) की प्रवेश परीक्षा होगी।

व्यावहारिक परीक्षा 28 व 29 अक्टूबर को

विद्यापीठ के एमपीएड (सत्र-2020-21) में दाखिला लेने अभ्यर्थियों की व्यावहारिक परीक्षा (शारीरिक परीक्षण टेस्ट) 28 व 29 अक्टूबर को शारीरिक शिक्षा विभाग में सुबह छह बजे से होगी। विभागाध्यक्ष प्रो. संतोष कुमार ने बताया कि प्रवेश पत्र संग स्पोट्र्स किट भी लाना अनिवार्य होगा।

17 अक्टूबर को होगी प्रायोगिक परीक्षा

महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में बीएफए व एमएफए में प्रवेश हेतु प्रायोगिक परीक्षा अब 17 अक्टूबर को सुबह दस बजे से परिसर स्थित मानविकी संकाय में होगी। कुलसचिव डा. एसएल मौर्य ने बताया कि पहले प्रायोगिक परीक्षा 15 अक्टूबर को निर्धारित की गई थी।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस