भदोही, जेएनएन। वाराणसी से लोकमान्य तिलक को जा रही अप कामायनी एक्सप्रेस की कपलिंग खुलने से इंजन और डिब्बे अलग हो गया। इसके चलते यात्रियों में हड़कंप मच गया। रफ्तार बेहद कम होने से बड़ी घटना टल गई। इस दौरान स्टेशन मास्टर को सूचित कर चालक ने कपलिंग जोड़कर ट्रेन को आगे बढ़ाया। उधर स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने के बाद आवश्यक लिखा पढ़ी के बाद ट्रेन को गंतव्य की ओर रवाना किया गया। इस दौरान ट्रेन डेढ़ घंटे लेट हो गई।  

कामायनी एक्सप्रेस अप गुरुवार को अपने निर्धारित समय से वाराणसी से रवाना हुई थी। इस दौरान भदोही-परसीपुर स्टेशन के मध्य मोरवा पुल पर काशन होने के कारण ट्रेन 10 से 15 किमी की गति से पास हुई। वह जैसे ही पुल से पास हुई चालक ने गति बढ़ाना चाहा कि इंजन को बोगियों से जोडऩे वाली कपलिंग खुल गई। इस दौरान इंजन 15 से 20 मीटर आगे निकल गया। अचानक हुई इस घटना से ट्रेन में बैठे यात्रियों में हड़कंप मच गया। चालक के रहमान के अनुसार 4.57 बजे काशन क्लियर करने के बाद जैसे ही ट्रैक्शन लिया कपलर खुल गया। स्टेशन मास्टर को सूचित कर उसने कपलर दुरुस्त करने में जुट गया। कपलर जोडऩे व कंप्रेशर बनाने के बाद 5.32 बजे को भदोही की ओर बढ़ाया गया। उधर घटना की जानकारी होने के बाद कंट्रोल रूम ने स्टेशन अधीक्षक आलोक कुमार से मामले की पूरी छानबीन कर घटना की पूरी रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। बताया कि स्टेशन पर 5.47 बजे ट्रेन पहुंची। इस दौरान चालक ने मेमो देते हुए घटना का कारण बताया। कंट्रोल से हरी झंडी मिलने के बाद 6.20 बजे ट्रेन को गंतव्य की ओर रवाना किया गया। उधर ट्रेन में बैठे यात्रियों के चेहरे पर खौफ देखा गया। यात्रियों ने बताया कि जिस समय इंजन बोगी से अलग हुई लोग सहम गए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस