वाराणसी, जेएनएन। गुजरात के बड़ोदरा से आयकर की टीम कालेधन का क्लू तलाशने गुरुवार दोपहर वाराणसी पहुंची। वहां की टीम ने वाराणसी के अधिकारियों से छानबीन में मदद ली। स्थानीय अधिकारियों ने गुजरात में छापेमारी के क्रम में क्लू तलाशने की बात स्वीकारते हुए कार्यवाही को सर्वे बताया है।

करखियांव में एक कंपनी फल जूस का काम करती है। उक्त कंपनी का गुजरात में कुछ दौलतमंदों से कारोबारी संबंध है। वहां आयकर की टीम ने छापेमारी की कारोबारी रिश्ते के बारे में जानकारी मिली। उसी के आधार पर बड़ोदरा से इनकम टैक्स की इनवेस्टीगेशन विंग वाराणसी आ धमकी। स्थानीय अधिकारियों को लेकर फल जूस बनाने वाली कंपनी में जा धमके। वहां घंटों जांच के बाद अधिकारी जरूरी कागजात लेकर देर शाम लौट गए।गौरतलब है कि फल जूस बनाने वाली कंपनी पहले सेंट्रल जीएसटी टीम के निशाने पर रही थी।

अधिकारियों ने छापेमारी में कंपनी की संपत्ति सीज की थी। उसी दौरान सीजीएसटी टीम ने भी बड़ोदरा में  छापेमारी की थी। वाराणसी से लेकर गुजरात तक हुई छापेमारी में कंपनी सुर्खियों में छा गई थी। वाराणसी के आयकर आयुक्त सुनील माथुर इन्वेस्टिगेशन टीम की जांच-पड़ताल की पुष्टि की है। सेंट्रल जीएसटी के एक अधिकारी ने बताया कि फल जूस बनाने वाली कंपनी के बारे में हम लोगों ने भी दूसरे एजेंसियों को भी काले कारोबार के बारे में जानकारी दी थी।   

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप