मीरजापुर, जेएनएन। आयकर विभाग लखनऊ समेत चार जनपदों की संयुक्त टीम नगर के गणेशगंज स्थित एक सराफा व्यापारी के यहां गुुरुवार को सर्वे करने पहुंची। इससे व्यापारियों में हड़कंप मच गया। लगभग सात घंटे तक चली कार्रवाई के दौरान टीम ने एक-एक दस्तावेज को खंगाला। खरीदे गए आभूषण पर चुकाए गए टैक्स की जानकारी ली। यही नहीं व्यापारी द्वारा सरकार को अदा गए टैक्स के रिकार्ड से अपने रिकार्ड को मिलान किया। भारी गड़बड़ी करने की आशंका जताते हुए कुछ दस्तावेज जब्त करते हुए टेेक्निकल टीम को जांच के लिए बुलाया गया। 

किसी ने आयकर विभाग को सूचना दी थी कि कटरा कोतवाली क्षेत्र के गणेशगंज स्थित एक आभूषण व्यापारी सोना खरीद व बिक्री में लाखों का गोलमाल कर रहे हैं। इससे सरकार को हर महीने लाखों रुपये का चपत लग रहा है। मामले को गंभीरता से लेते हुए उच्चाधिकारियों के निर्देश पर टीम व्यापारी का लेखाजोखा जुटाते हुए उनके यहां सर्वे करने के लिए बुधवार की रात जनपद में धमक पड़ी। रात भर एक होटल में गुजारने के बाद सुबह पुलिस फोर्स के साथ व्यापारी के यहां सर्वे शुरु किया गया। आयकर विभाग के सर्वे की खबर लगते ही व्यापारियों में हड़कंप मच गया। टीम ने कार्रवाई शुरू किया तो मामला बड़ा नजर आने लगा। इसको देखते ही प्रयागराज, सोनभद्र व मीरजापुर की टीम को भी बुला लिया। उधर कई घंटे से चल रही कार्रवाई की खबर लगते ही भारी संख्या में लोग जुट गए। नगर के सारे व्यापारी अपनी दुकानें बंद कर कार्रवाई की डर से गायब हो गए। सभी पता लगाते रहे कि टीम गई की नहीं। 

कब क्या हुआ

- बुधवार को आयकर विभाग की टीम नगर के नटवा स्थित एक होटल में रुकी।

- गुरुवार पूर्वाह्न 11 बजे लखनऊ की सर्वे के लिए होटल से फोर्स के साथ निकली।

- 12 बजे गणेशगंज निवासी सराफा व्यापारी के यहां पहुंची।

- शाम चार बजे इलाहाबाद और मीरजापुर की टीम को बुलाया गया।

- शाम पांच बजे सोनभद्र की टीम भी जनपद पहुंची।

- 10 गाड़ी से 20 सदस्यीय टीम ने जांच पड़ताल की।

- टीम ने अपने कम्प्यूटर में पड़े रिकार्ड से व्यापारी के रिकार्ड को मिलाया

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस