चंदौली, जागरण संवाददाता। विधानसभा चुनाव में वैश्विक महामारी को लेकर सतर्कता रहेगी। निर्वाचन आयोग ने इस बार 1200 से अधिक मतदाताओं की संख्या पर दो बूथ बनाने का निर्देश दिया है। जिन बूथों पर महज 300 मतदाता होंगे, उसे समीप के मतदान केंद्र से संबद्ध कर दिया जाएगा। आयोग ने इसको लेकर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है। प्रशासन 17 अगस्त तक अभियान चलाकर बूथों पर मतदाताओं की संख्या के सर्वे में जुटा है। सर्वे का काम पूरा होने के बाद राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक भी की जाएगी। उनसे दावे और आपत्तियां भी ली जाएंगी। इसके निस्तारण के बाद बूथों का निर्धारण किया जाएगा।

विधानसभा चुनाव 2022 में होंगे। इसको लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है। आयोग के निर्देश पर मतदाता सूची पुनरीक्षण की प्रक्रिया पिछले काफी दिनों से जारी है। बीएलओ लोगों के नाम सूची में शामिल कर रहे हैं। वहीं मतदान केंद्रों के निर्धारण की कवायद भी शुरू हो गई है। आयोग ने अधिकतम 1200 मतदाताओं पर एक बूथ बनाने का निर्देश दिया है। इससे अधिक मतदाताओं की संख्या होगी तो दो बूथ बनाने पड़ेंगे। 2017 के विधानसभा चुनाव में जिले में 900 से अधिक बूथ थे।

हालांकि इस बार बूथों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है। दरअसल, इस बार कोरोना संक्रमण का खतरा है। तीसरी लहर की आशंका जताई जा रही है। ऐसे में आयोग सतर्क हो गया है। एक बूथ पर अधिकतम 1200 मतदाताओं को रखने का निर्देश दिया गया है। ताकि मतदान के दौरान बूथों पर अधिक भीड़ न होने पाए और शारीरिक दूरी के मानक का पालन कराया जा सके। आयोग के फरमान के निर्वाचन विभाग ने कवायद शुरू कर दी है। संबंधित विभागों को इस काम में लगाया गया है। 17 अगस्त तक बूथों पर मतदाताओं की संख्या, यहां संसाधनों की उपलब्धता की पड़ताल की जाएगी। इसके आधार पर निर्वाचन विभाग रिपोर्ट तैयार करेगा।

राजनीतिक दलों के साथ करेंगे चर्चा

बूथों की रिपोर्ट तैयार होने के बाद अधिकारियों व राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की बैठक होगी। इसमें अधिकारी उनके सुझाव व समस्याएं सुनेंगे। इसके बाद दावा और आपत्ति दाखिल करने के लिए समय दिया जाएगा। दावा और आपत्ति के निस्तारण व सभी पहलुओं पर विचार करने के बाद बूथों का निर्धारण किया जाएगा। इसकी सूची तैयार कर आयोग को भेजेंगे।

निर्वाचन आयोग के आदेशानुसार इस बार बूथों का निर्धारण किया जाएगा 

निर्वाचन आयोग के आदेशानुसार इस बार बूथों का निर्धारण किया जाएगा। 1200 से अधिक मतदाताओं की संख्या होने पर दो बूथ बनाए जाएंगे। ताकि कोरोना संक्रमण का खतरा न रहे। बूथों के सत्यापन की प्रक्रिया जारी है।

अतुल कुमार, अपर जिलाधिकारी

 

Edited By: Saurabh Chakravarty