जागरण संवाददाता, सोनभद्र। चोपन थाना क्षेत्र के एक गांव में आदिवासी समुदाय की एक किशोरी के साथ तीन लोगों ने सामूहिक दुराचार किया। दशहरा पर्व के दिन किशोरी को अगवा करने के बाद घटना को अंजाम दिया गया। राज्यमंत्री संजय गोंड़ के हस्तक्षेप के बाद रविवार की देर शाम चोपन पुलिस ने एक नामजद समेत तीन के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस को दी तहरीर में पीड़िता की मां ने बताया कि गत 15 अक्टूबर को उसकी 16 वर्षीय बेटी विजयादशमी के मेले से शाम को लौटी। घर आने के बाद शौच के लिए बाहर चली गई। उसी समय डाला नगर पंचायत के पटोला टोला निवासी सूरज चौबे नामक युवक अपने दो साथियों के साथ बाइक से पहुंचा और उसे खींचते हुए जबरिया बाइक पर बैठा कर ले गया। अनजान जगह ले जाकर उसके साथ तीनों ने दुष्कर्म किया। करीब घंटे भर बाद उसे छोड़ा गया और कहीं घटना की सूचना देने पर जान मारने व एमएमएस वायरल करने की धमकी दी गई। दो दिन तक लोक लाज के चलते मामला दबा रहा। रविवार की शाम पीड़िता मां के साथ समाज कल्याण राज्यमंत्री संजय गोंड़ के पास पहुंची और उन्हें पूरी घटना की जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने डाला चौकी प्रभारी के नाम से लिखी गई तहरीर पर अपनी तरफ से जांच कर कार्रवाई करने की बात कहा। शाम को पीड़ित की मां तहरीर के साथ चोपन थाने पहुंची। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक चोपन केके सिंह ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर एक नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी गई है।

Edited By: Saurabh Chakravarty