बलिया, जागरण संवाददाता। 18 अगस्त 1942 के बलिदानियों को क्षेत्र के लोगों ने नमन किया। इसी दिन द्वाबा के क्रांतिकारियों ने बैरिया थाना पर हमला बोला था। जिसमें 20 लोगोें ने अपना बलिदान दिया। लगभग 150 लोगों को गोली लगी थी। उनकी स्मृति को जिंदा रखने के लिए हर साल भारी संख्या में लोग पहुंचते हैं और स्मारक पर श्रद्धा के पुष्प अर्पित करते हैं। भाजपा सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने जनपद वासियों व भारतीय जनता पार्टी की ओर से फूलमाला चढ़ाकर बलिदानियों को नमन किया। उन्होंने कहा कि स्मारक को भव्यता प्रदान की जाएगी। जिन गांवों के लोग स्वतंत्रता आंदोलन में अपना बलिदान दिए उनके गांव को भी संतृप्त किया जाएगा। सरकार इसके लिए योजना बना चुकी है।

सपा विधायक जयप्रकाश अंचल ने समाजवादी पार्टी व क्षेत्र के लोगों की तरफ से पुष्प चढ़ाए। पूर्व सांसद भरत सिंह, पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह, नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि मंटन वर्मा, अधिशासी अधिकारी आशुतोष ओझा, तहसीलदार संजय सिंह, समाजसेवी भगवती सिंह, सपा के नेता कमलेश कुमार वर्मा सहित विभिन्न राजनीतिक दलों, समाजिक संगठनों के जुड़े सैकड़ों लोगों ने बलिदानियों को नमन किया। क्षेत्र के कई विद्यालयों के बच्चों ने भी स्मारक पर पुष्प अर्पित किया। गोड़वाना व अखिल भारतीय गोड़ महासभा द्वारा परंपरागत गीत संगीत के साथ बलिदानियों की स्मृति को ताजा किया। इस स्थान पर पहले सर्वदलीय सभा का आयोजन होता था, लेकिन कोरोना महामारी आने के बाद यह परंपरा समाप्त हो गई।

सेनानी संगठन ने भी दी श्रद्धांजलि

सेनानी रामविचार पांडेय के नेतृत्व में बलिया से आए सेनानी उत्तराधिकारी संगठन ने शहीदों को शहीद स्मारक पर पहुंचकर नमन किया। नगर पंचायत की तरफ से उन्हें अंगवस्त्रम से सम्मानित किया गया। सेनानी संगठन की तरफ से विजेंद्र नाथ मिश्र, गंगासागर सिंह, शिव कुमार सिंह कोशिकेय, शिवसागर पांडेय, द्विजेन्द्र मिश्र, सागर सिंह राहुल, उषा सिंह, कौशल कुमार व सरदार लक्ष्मण सिंह दर्जनों लोग शामिल थे। सेनानियों व उनके आश्रितों को जिला प्रशासन की तरफ से तहसीलदार संजय सिंह व नायब तहसीलदार अजय कुमार सिंह ने तहसील परिसर में अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया।

पूर्व सैनिकों ने शहीद स्मारक पर चढ़ाया पुष्प चक्र

भूतपूर्व सैनिक संगठन बलिया के तरफ से जिलाध्यक्ष अखिलेश्वर सिंह के नेतृत्व में पूर्व सैनिकों ने शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र चढ़ाकर बलिदानियों को नमन किया। इस मौके पर सूबेदार मेजर शैलेंद्र सिंह, अंगद सिंह, कन्हैया शर्मा, उमाशंकर ओझा, सत्यनारायण सिंह, आरके यादव व श्रीकांत तिवारी आदि मौजूद थे।

सेनानियों के आश्रितों ने भी किया नमन

बैरिया थाने पर हमले के मुख्य कमांडर बहुआरा के निवासी भूपनारायण सिंह के पुत्र अजय मोहन सिंह, क्रांति के नायक नारायणगढ़ निवासी अमर शहीद कौशल कुमार के पौत्र अनिल सिंह सपत्नीक सहित कई स्वजनों ने स्मारक पर पुष्प अर्पित किया।

एसएचओ ने किया पूजा-अर्चना

परंपरा के अनुसार एसएचओ धर्मवीर सिंह ने सुबह सात बजे बलिदानियों के स्मारक पर पूजा अर्चना किया। पुलिस प्रशासन की ओर से चादर चढ़ाया गया। पुलिस बल द्वारा अपना शास्त्र उल्टाकर बलिदानियों को सलामी दी गई।

Edited By: Anurag Singh