वाराणसी, जेएनएन। पूर्वांचल में जोरदार हो रही बरसात के बीच भी गंगा में घटाव का रुख तटवर्ती इलाकों में राहत दे रहा है। वाराणसी में गंगा अब घाटों से नीचे उतरने लगी हैं तो गाजीपुर में तीन दिन पूर्व ही गंगा चेतावनी बिंदु से नीचे आ गईं जबकि बलिया जिले में गंगा अभी भी खतरा बिंदु पार है, हालांकि घटाव की गति के लिहाज से सोमवार शाम तक गंगा यहां भी खबरा बिंदु से कम हो जाएंगी। हालांकि कौशांबी जिले के शहजादपुर में गंगा में बढ़ाव का रुख बना हुआ है ऐसे में आने वाले एक दो दिन में गति में बढाव जारी रहा तो पूर्वांचल तक असर आ सकता है।

वहीं गंगा की सहायक नदियों में भी उफान थमने के बाद तटवर्ती इलाकों में पलायन कर चुके लोग वापस घरों की ओर लौटने लगे हैं। वहीं बलिया जिले में अभी भी गंगा खतरे के निशान से पांच सेंटीमीटर ऊपर है। हालांकि गंगा का रुख घटाव की ओर है लिहाजा शाम तक यहां भी गंगा खतरा बिंदु से नीचे आ जाएंगी। वहीं गंगा में घटाव होने से कई तटवर्ती इलाकों में घटाव के साथ ही कटान होने से खेत विलीन भी हो रहे हैं।

दूसरी ओर गंगा की सहायत नदियों में घटाव का रुख होने से तटवर्ती इलाकों में लोगों ने राहत की सांस ली है और जो अपना घर छोड कर सुरक्षित ठिकानों की ओर चले गए थे वह वापस लौटने लगे हैं। वहीं घाघरा नदी में भी घटाव का रुख है हालांकि घाघरा नदी सर्वाधिक कटान पूर्वांचल में कर रही है। जिसकी वजह से तटवर्ती इलाकों के खेत लदी में विलीन हो रहे हैं।   

पूर्वांचल में गंगा नदी का रुख

जिला

खतरा  चेतावनी वर्तमान रुख
मीरजापुर  77.72 76.724 72.67 घटाव
वाराणसी 71.26 70.26 67.45 घटाव
गाजीपुर  63.10 62.10 61.14 घटाव
बलिया 57.61 56.61 57.66 घटाव

   

  

 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप