वाराणसी, जागरण संवाददाता। सेवापुरी 'नाम उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन' मशहूर गजल की यह लाइन घर से फरार हुए प्रेमी जोड़े पर सटीक बैठती हैं। ससुराल से मायके आयी चार बच्चों की मां अपने प्रेमी के साथ फरार हो गयी। अपने साथ तीन बच्चों को भी ले गयी है। मामले की जानकारी पति समेत ससुराल वालों को हुई तो पहले उसकी काफी तलाश किया। कहीं पता नहीं चलने पर पुलिस के पास पहुंचकर विवाहिता व बच्चों को बरामद करने की गुहार लगायी है।

जौनपुर जनपद के रामपुर थाना क्षेत्र के भरतीपुर गांव निवासी एक दंपती अहमदाबाद में रहकर एक ठेकेदार के साथ काम करते थे। काम करते- करते विवाहिता का ठेकेदार के साथ प्रेम संबंध हो गया था। एक साल पहले पति-पत्नी वापस अपने गृह जनपद जौनपुर आ गए। घर चलाने के लिए यहां पर रहकर काम करते थे। इस दौरान गुपचुप तरीके से उसका संबंध ठेकेदार से बना ही रहा। हालांकि की घर वालों की इसकी भनक नहीं लग सकी थी। उन्हें विवाहिता के ठेकेदार के साथ संबंध की जानकारी नहीं थी। कुछ दिन पहले विवाहिता ने वाराणसी के कपसेठी थाना क्षेत्र स्थित अपने मायके जाने की बात कही।

ससुराल के लिए निकली थी विवाहिता : पति की सहमति मिलने के बाद एक सप्ताह पूर्व विवाहिता अपने मायके कपसेठी क्षेत्र में आ गई थी। चार दिन पहले अपने प्रेमी ठेकेदार के साथ फरार हो गयी। अपने साथ तीन बच्चों को भी लेकर गयी है। जब कई दिनों तक विवाहिता से सम्पर्क नहीं हुआ तो उसने पति ने मायके में पता लगाया। यहां से जानकारी मिली कि उसकी पत्नी अपने तीन बच्चों के साथ चार दिन पहले ही अपने ससुराल जौनपुर के लिए चली गई है। इसके बाद खोजबीन शुरू हुई तो पता चला कि विवाहिता भदोही निवासी अपने प्रेमी ठेकेदार के साथ भाग गई है। पति ने इसकी सूचना कपसेठी पुलिस को दी है।

Edited By: Abhishek Sharma