वाराणसी, जेएनएन। भेलूपुर थाना क्षेत्र बजरडीहा की विवाहिता मौसमी राय 26 वर्ष को जली अवस्था में 19 जनवरी को मंडलीय अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। शुक्रवार की देर रात उपचार के दौरान मौत हो गई। विवाहिता की मौत से आक्रोशित परिजनों ने मंडलीय अस्पताल के सामने सड़क जाम कर दिया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों की ओर से ससुराल पक्ष के लोगों पर कार्रवाई करने का आश्वासन देने के बाद जाम समाप्त हुआ।

 लंका थाना क्षेत्र के बच्छाव निवासी स्व. रविशंकर की पुत्री मौसमी राय  की शादी दो वर्ष पहले भेलूपुर के बजरडीहा निवासी मनीष राय से हुई थी। मौसमी राय को एक पुत्री भी हुई। वहीं, मृतक की बहन सुशीला ने आरोप लगाया कि दहेज की मांग को लेकर ससुराल पक्ष के लोग आए दिन मौसमी को प्रताडि़त करते थे। इसी दौरान 19 जनवरी को दिन में ससुराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया और फरार हो गए। जिससे मौसमी  80 फीसदी जल चुकी थी। क्षेत्रीय लोगों ने शिव प्रसाद गुप्त मंडलीय  अस्पताल में भर्ती कराया। जिसके बाद झुलसी मौसमी के परिजनों ने भेलूपुर थाने में अपने पुत्री को दहेज की मांग को लेकर प्रताडि़त कर जिंदा जलाने को लेकर मुकदमा दर्ज कराया। परिजनों ने आरोप लगाया है कि मुकदमा दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस आनाकानी कर रही थी।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस