वाराणसी, जेएनएन। लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद शुक्रवार को पहड़िया मंडी के स्ट्रांग रूम में सभी ईवीएम को सील कर दिया गया। इसकी सुरक्षा के लिए जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षाकर्मियोंकी तैनाती कर दी गई है। वे 24 घंटे ईवीएम की निगरानी करेंगे। दरअसल लोकसभा चुनाव में मतदान को लेकर कोई विवाद नहीं होने के चलते निर्वाचन आयोग ने ईवीएम को लेकर कोई दिशा-निर्देश नहीं दिया है। स्ट्रांग रूम का सील तभी खुलेगा जब जिले में या कहीं बाहर चुनाव के लिए ईवीएम भेजना होगा। लोकसभा चुनाव संपन्न कराने के लिए दूसरे प्रदेश और जिले से बैलेट यूनिट, कंट्रोल यूनिट और वीवीपैट मंगाए गए थे।

23 मई को पहड़िया मंडी में मतगणना होने के बाद ईवीएम को फिर से स्ट्रांग रूम में रख दिए गए थे लेकिन मतगणना के बाद परिणाम आने में विलंब हो गए। ऐसे में अधिकारियों ने ईवीएम को स्ट्रांग रूम में रखने के साथ सुरक्षा कर्मियों की तैनाती कर दी थी। शुक्रवार को सभी ईवीएम का मिलान करने के बाद निर्वाचन अधिकारी और पुलिस की मौजूदगी में स्ट्रांग रूम में सील कर दी गई है। उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि वाराणसी, चंदौली के शिवपुर और अजगरा विधानसभा क्षेत्र तथा जौनपुर के मछली शहर लोकसभा सीट के पिंडरा विधानसभा क्षेत्र में इसको लेकर कोई विवाद और आपत्ति नहीं है। अब ईवीएम को सुरक्षित रखा गया है। इसकी जरूरत अगले विधान परिषद चुनाव में पड़ेगी। पहड़िया मंडी के स्ट्रांग रूम में पुलिस व निर्वाचन अधिकारी निगरानी के लिए मौजूद रहे। सुरक्षा के सभी इंतजाम वहां किए गए हैं।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप