वाराणसी, जेएनएन। जैतपुरा थाना क्षेत्र के जीटी रोड  स्थित स्लॉटर हाउस के समीप शुक्रवार की सुबह बदमाश ने शामू  पर फायर कर दिया। जो सफाई कर्मी का कार्य करता है। फायर  मिस होने से वह बाल-बाल बच गया। इसी दौरान सफाईकर्मी ने शोर मचा दिया और बदमाश गोलगड्डा की तरफ भागने लगा। स्थानीय लोगों ने दौड़ाकर पकड़ लिया बदमाश नीरज पीटर की जमकर धुनाई की और मौके पर पहुंची पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से तमंचा व दो कारतूस बरामद किया है।

थाना आदमपुर के भदऊ चुंगी निवासी शामू साफ-सफाई का काम कर रहा था। इसी दौरान बदमाश  नीरज पीटर निवासी पुराना पुल शीतला माता मंदिर थाना सारनाथ ने फायर कर दिया। गोली मिस होने के कारण शामू को नहीं लगी। शामू ने बताया कि राहुल, रोहित, जोगिंदर, सुक्खू, अमरचंद की हरिजन बस्ती में लड़कियों के साथ छेड़छाड़, महिलाओं से बदतमीजी करना, छोटी-छोटी बात पर लोगों से झगड़ा करना फितरत थी। इसमें अमरचंद उसका साला है। इससे आजिज होकर बस्ती के सारे लोग प्रार्थना पत्र पर हस्ताक्षर कर आदमपुर थाने में प्रार्थना पत्र दिए थे। इस आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। तब से पुलिस इन पांचों आरोपियों की तलाश में थी। करीब 15 दिन पहले आरोपियों द्वारा जान से मारने की धमकी दी गई थी लेकिन उसने पुलिस को अवगत नहीं कराया। शुक्रवार को  उन्होंने शूटर को भेजकर उसे मारने की कोशिश की गई । 2010 में शामू ने साले के पिता पर चलाई थी गोली

पुलिस ने बताया की शूटर नीरज को शामू का साला अमरचंद गोली मारने के लिए लाया था। अमरचंद ने ही उसे कट्टा मुहैया कराया था। वर्ष 2010 में शामू ने अमरचंद के पिता के ऊपर गोली चलाई थी। हालांकि बाद में मामले में सुलह हो गया था। वहीं आठ माह पूर्व भी थाना आदमपुर में आपस में मारपीट का मुकदमा दर्ज हुआ था। इन लोगों के मध्य आपस में पूर्व से रंजिश चल रही थी।  जैतपुरा पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस