जागरण संवाददाता, वाराणसी। जनपद में डेंगू मरीजों की संख्या दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। लंका, भगवानपुर, छित्तूपर, बेनिया, तेलियाबाग आदि जैसी शहर की घनी आबादी के बाद अब डेंगू का प्रकोप ग्रामीण क्षेत्रों की ओर भी बढ़ चला है। बीते 24 घंटे में तीन डेंगू मरीज क्रमश: हिरामनपुर-चिरईगांव, शिवपुर व कज्जाकपुरा से मिले। प्रभावित क्षेत्रों में स्वास्थ्य टीम को भेजकर दवा का छिड़काव कराया गया।

एनएस-1 जांच में छह संदिग्ध मरीज पाए गए, जो क्रमश: फुलवरिया, छोटी पियरी, सरनाथ, सदर बाजार व प्रेमचंद नगर कालोनी के निवासी हैं। सभी के ब्लड सैंपल पुष्टि के लिए बीएचयू लैब भेज दिए गए हैं। वहीं लार्वा रोधी अभियान के तहत कई मोहल्लों में जांच की गई। 18 स्थानों पर एंटी लार्वल का छिड़काव किया गया, तो वहीं 318 घरों में सोर्स रिडक्शन किया गया। पिछले वर्ष जहां सिर्फ चार ही डेंगू मरीज मिले थे, वहीं इस बार अब तक 114 पुष्ट मरीज मिले हैं। वहीं रैपिड टेस्ट में शुक्रवार को मिले छह सहित अब तक 1447 संदिग्ध मरीज मिल चुके हैं।

जनपद के 87 केंद्रों पर आज सिर्फ दूसरी डोज वालों टीका

वाराणसी के 87 स्वास्थ्य केंद्रों पर शनिवार, 11 सितंबर को केवल दूसरी डोज वालों को ही टीका लगाया जाएगा। इसके लिए शहरी क्षेत्र में 43, ग्रामीण में 35 केंद्रों के साथ ही सात वर्क प्लेस, एक महिला व एक अंतरराष्ट्रीय स्पेशल केंद्र बनाया गया है। सीएमओ डा. बीवी सिंह ने बताया कि वैक्सीन की दो डोज लगने के बाद ही शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है। इसलिए हमारा जोर अधिक से अधिक लोगों को जल्द दूसरी खुराक लगवाने पर है। इसी के चलते शनिवार को सिर्फ दूसरी डोज वालों को ही प्रतिरक्षित किया जा रहा है। इसके लिए सुबह आठ बजे स्लाट खुलेगा और सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक टीकाकरण होगा। केंद्रों पर स्लाट बुक करने वाले एवं सीधे आने वालों को दूसरी खुराक दी जाएगी।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty