गाजीपुर, जागरण संवाददाता। सैदपुर नगर स्थित बूढ़ेनाथ महादेव घाट पर स्नान करते वक्त गंगा नदी में डूबे किशोर राजकुमार (16) का शव 24 घंटे बाद शुक्रवार को करंडा थाना क्षेत्र के चकेरी गांव के पास मिला। वहीं करंडा थाना क्षेत्र के बयेपुर सोकनी में डूबी किशोरी (15) का शव भी जहां डूबी थी उसी स्थान गुरुवार की देर शाम उतराया हुआ मिला। एनडीआरएफ 11 बटालियन के उप निरीक्षक अनिल कुमार की टीम ने राजकुमार के शव को बाहर निकाला और बूढ़ेनाथ महादेव घाट पर वापस ले आए। वहीं जमानियां के मतसा में किशोर गोलू यादव (18) का पता नहीं चल सका है। गोताखोरों की एक टीम अभी भी खोजबीन में लगी हुई है।

सैदपुर : राजकुमार के शव मिलने की सूचना पर आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। चंदौली के बलुआ थाना क्षेत्र के तिरगांव बारी गांव निवासी राजकुमार (16) बुधवार की सुबह करीब 10 बजे साथियों के साथ गंगा स्नान करने आया था। स्नान करते वक्त गहरे पानी में चले जाने के कारण वह डूब गया। साथियों की सूचना पर आसपास के लोग और घरवालों को मामले का पता चला। स्थानीय गोताखोरों द्वारा काफी खोजबीन के बाद भी पता न चलने पर जिला प्रशासन के निर्देश पर एनडीआरएफ की 11 सदस्यीय टीम उप निरीक्षक अनिल कुमार के नेतृत्व में शाम को घाट पर पहुंची। काफी खोजबीन के बाद चकेरी गांव में शव नदी में बहता दिखा तो टीम ने उसे बाहर निकाला। राजकुमार का शव देख घरवालों का रो-रोकर बुरा है। कोतवाली के वरिष्ठ उप निरीक्षक घनानंद त्रिपाठी ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

करंडा : थाना क्षेत्र के बयेपुर सोकनी घाट पर उजाला अपनी दादा की अंतिम संस्कार में गई थी। इस दौरान गंगा में स्नान करते समय वह गहरे पानी में डूब गई। पुलिस गोताखोरों की मदद से काफी प्रयास की, लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। गुरुवार की शाम उसी स्थान पर उजाला का शव उतराया हुआ मिला तो स्वजन में कोहराम मच गया।

Edited By: Abhishek Sharma