बिहार से पिस्टल की होम डिलीवरी करने आए दो तस्कर गिरफ्तार

-मुंगेर की बनी हुई दो पिस्टल, कारतूस व 36 हजार बरामद

-खुद असलहा बनाकर बनारस, बिहार व झारखंड में करते थे सप्लाई

जागरण संवाददाता, वाराणसी: बिहार से अवैध असलहा लाकर बेचने वाले दो तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से दो पिस्टल, कारतूस, एक मोबाइल, 36 हजार रुपये नकद बरामद हुआ। पूछताछ में दोनों ने बताया कि पांच साल से असलहों की तस्करी कर रहे हैं। डिमांड पर होम डिलीवरी भी करते हैं।

थाना प्रभारी अर्जुन सिंह ने बताया कि दोनों को चंद्रा रेलवे क्रासिंग के पास से पकड़ा गया। उनकी पहचान बिहार के गया के मोहम्मद शम्स व मुंगेर के दुक्खन मंडल के रूप में हुई। पूछताछ में दोनों ने बताया कि मुंगेर जिले में अवैध असलहा बनाने की फैक्ट्री में काम करते थे। फैक्ट्री बंद होने से बेरोजगारी हो गए तो इसके बाद खुद असलहा बनाकर बनारस, झारखंड सहित कई राज्यों में सप्लाई करने लगे। असलहा मंगाने वाले के घर तक पहुंचा देते थे। एक असलहा बेचने के बदले उन्हें 20 से 22 हजार रुपये मिल जाते थे। मोहम्मद शम्स ने बताया कि बनारस में बहुत पुराना परिचित है उसे .32 बोर पिस्टल व कारतूस बेचने के लिए दोनों मुंगेर की बनी दो पिस्टल लेकर सुबह निकले थे। उनके पास से 36 हजार रुपये मिले जो बिहार के शेरघाटी के एक व्यक्ति को पिस्टल बेचने पर मिले थे। मोहम्मद शम्स झारखंड व बिहार में भी असलहा तस्करी में जेल जा चुका है।

Edited By: Jagran