Move to Jagran APP

Varanasi: कंपनी की सेवा में कमी पड़ी महंगी, कोर्ट ने लगाई फटकार; उपभोक्ता को छह लाख रुपये लौटाने का भी दिया आदेश

कंपनी की सेवा में कमी उन्हें महंगी पड़ी और न्यायालय ने ब्याज के साथ रिफंड देने का आदेश दिया। यह मामला उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले का है। जिला उपभोक्ता विवाद (प्रतितोष) आयोग ने लहुराबीर के मेमर्स नीलगिरी इंफ्रा सिटी प्राइवेट लिमिटेड को एक परेशान उपभोक्ता को छह लाख रुपये वापस करने का आदेश दिया है। कंपनी के झूठे वादों के चलते बीच में लटक गया।

By Jagran News Edited By: Riya Pandey Wed, 10 Jul 2024 01:53 PM (IST)
कोर्ट ने उपभोक्ता को छह लाख रुपये लौटाने का दिया आदेश

जागरण संवाददाता, वाराणसी। जिला उपभोक्ता विवाद (प्रतितोष) आयोग ने लहुराबीर के मेमर्स नीलगिरी इंफ्रा सिटी प्राइवेट लिमिटेड पर एक परेशान उपभोक्ता सुमन डे को छह लाख रुपये वापस करने का आदेश दिया है, जो कंपनी के असफल वादों के कारण अधर में लटक गया था।

अब उपभोक्ता न्यायालय ने भारी रिफंड आदेश पर नीलगिरि इंफ्रा सिटी को फटकार लगाते हुए कार्रवाई की है जो कंपनियों के लिए सबक होगा। उपभोक्ता अदालत का फैसला सुमन डे के लिए एक बड़ी जीत है, जिन्होंने नीलगिरी इंफ्रा सिटी के साथ एक प्लाट बुक किया था, लेकिन उन्हें कभी कब्जा नहीं मिला।

ब्याज के साथ रिफंड देने का आदेश

कंपनी की सेवा में कमी उन्हें महंगी पड़ी और कोर्ट ने सात प्रतिशत ब्याज के साथ रिफंड देने का आदेश दिया, लेकिन इतना ही नहीं अदालत ने नीलगिरी इंफ्रा सिटी को सुमन डे को हुए मानसिक और शारीरिक उत्पीड़न के लिए मुआवजे के रूप में 25,000 रुपये और मुकदमे की लागत के रूप में 5,000 रुपये का अतिरिक्त जुर्माना भी लगाया है।

उपभोक्ता अधिकारों के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकती कंपनी

यह आदेश दोषी कंपनियों के लिए एक स्पष्ट संदेश है कि वे उपभोक्ता अधिकारों के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते। उपभोक्ता अदालत का फैसला कई अन्य लोगों के लिए आशा की किरण है, जिन्हें बेईमान बिल्डरों और डेवलपर्स द्वारा इसी तरह धोखा दिया गया है।

फैसले से उपभोक्ता के दृढ़ संकल्प की पुष्टि

सुमन डे की कानूनी लड़ाई 21 अक्टूबर 2021 को से शुरू हुई थी और आज का फैसला उनके अधिकारों के लिए लड़ने के उनके दृढ़ संकल्प की पुष्टि है। उपभोक्ता अदालत का आदेश एक अनुस्मारक है कि उपभोक्ताओं को अब उन कंपनियों द्वारा धोखा नहीं दिया जाएगा जो अपने वादे पूरे करने में विफल रहती हैं।

यह भी पढ़ें- वाराणसी के लोगों के लिए खुशखबरी, 15 करोड़ की लागत से होगा इस सड़क का निर्माण; शासन को भेजा गया प्रस्ताव