वाराणसी, जेएनएन। कोरोना वायरस जिस रफ्तार से फैल रहा है, उतनी ही तेजी से लोग स्वस्थ भी हो रहे हैं। कोरोना संक्रमित सात मरीज बुधवार को स्वस्थ्य घोषित करते हुए अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिए गए। उधर, बीएचयू से आई कोरोना जांच से संबंधित रिपोर्ट में सिपाही-कंपाउंडर समेत आठ और जौनपुर के दो लोग पॉजिटिव निकले।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि बीएचयू लैब से मंगलवार देर रात एक और बुधवार को 120 कुल 121 सैंपल की रिपोर्ट आई। रिपोर्ट के अनुसार 111 निगेटिव और 10 पॉजिटिव हैं। वाराणसी में पॉजिटिव आए आठ मरीजों में छह प्रवासी नागरिक हैं और सभी मुंबई से ट्रेन-बस व अपने साधन से आए थे।

कोरोना संक्रमित बेटे के बाद मां की रिपोर्ट भी निकली पॉजिटिव

कपसेठी के सिसवा गांव की 25 वर्षीय महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बीते 25 मई को महिला का एक वर्षीय बेटा भी पॉजिटिव निकला था।  महिला ट्रक से मुंबई से वाराणसी आई थी। सिसवा पहले से ही हॉटस्पाट घोषित है। मुंबई की कपड़ा मिल में काम करने वाला 36 वर्षीय संक्रमित युवक  रतनपुर गांव थाना फूलपुर का रहने वाला है। लॉकडाउन के बाद मुंबई से ट्रक से वाराणसी आया था। इसी गांव के एक और प्रवासी की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। 30 वर्षीय मरीज मुंबई में आटो चलाता था। पूर्व में रतनपुर हॉटस्पॉट में कोरोना पॉजिटिव आए मरीज के साथ वाराणसी आया था। 58 वर्षीय चौथा मरीज बड़ागांव थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव का रहने वाला है। भिवंडी (मुंबई) से ट्रक से वाराणसी आया। भिवंडी में एक  पावरलूम में काम करता था।

मुंबई में लगाता था पान की दुकान

मुंबई में पान की दुकान लगाने वाला 26 वर्षीय पांचवा मरीज कोतवाली के हरतीरथ का रहने वाला है। ट्रेन से वाराणसी आया था। स्वास्थ्य विभाग की थर्मल स्कैनिंग के दौरान कोरोना के लक्षण पाए जाने पर इसका नमूना लेकर बीएचयू भेजा गया था जांच के लिए। मुंबई में कपड़ा सिलाई का काम करने वाले 50 वर्षीय छठे प्रवासी मरीज चोलापुर के पहाड़ी गांव के निवासी हैं। लॉकडाउन में काम-धंधा बंद होने पर कार से वाराणसी आए।

सीओ सदर के हमराही के संपर्क में आया सिपाही भी निकला पॉजिटिव

कोरोना संक्रमित सीओ सदर के सिपाही के संपर्क में आए 34 वर्षीय सिपाही की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। संक्रमित सिपाही पुलिस लाइन में तैनात है और सीओ सदर के हमराही के साथ उसके बैरक में रहा है। सीओ सदर के सिपाही की बीते 24 मई को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। पॉजिटिव आने पर कांटेक्ट ट्रेसिंग के तहत साथ में रह रहे सात सिपाहियों को क्वारंटाइन किया गया था। पुलिस महकमे में भी तेजी से कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। अब तक 14 पुलिसकर्मी कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं।

कारोबारी को लगाया था इंजेक्शन, हो गया संक्रमित

सिगरा थाना क्षेत्र के नई पोखरी रमाकांत नगर के रहने वाले कंपाउंडर भी संक्रमण का शिकार हो गए। कंपाउंडर पूर्व में कोरोना पॉजिटिव हुए गुड़-चीनी व्यापारी को इंजेक्शन लगाने उसके घर जाता था। कारोबारी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद कांटेक्ट ट्रेसिंग के तहत कंपाउंडर का भी नमूना लिया गया था।

पुलिसकर्मी समेत सात को मिली अस्पताल से छुट्टी

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय में भर्ती पांच एवं बीएचयू सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों का फॉलोअप सैंपल निगेटिव आने के कारण उन्हेंं स्वस्थ घोषित करते हुए अस्पताल से छुट्टी से दे दी गई। डिस्चार्ज हुए मरीजों में एक एडी ऑफिस स्वास्थ्य विभाग का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। एक चुप्पेपुर हॉटस्पॉट से संबंधित पुलिसकर्मी है जो जैतपुरा थाने का पैरोकार है। स्वस्थ होने वालों में एक नरिया हॉटस्पॉट में पॉजिटिव आए मरीज की किराएदार है। चार प्रवासी नागरिक भी स्वस्थ्य हुए हैं। रिपोर्ट के अनुसार हरदासीपुर के एक, छितौना के दो और उमरहा बराई के एक प्रवासी ने कोरोना जैसी बीमारी को हरा दिया है।

5156 में से 4574 निकले निगेटिव

वाराणसी में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या अब 160 हो गई है जिसमें से 90 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। चार लोगों की मौत हो चुकी है। वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या 66 है। स्वास्थ्य विभाग वाराणसी में अब तक कोरोना से संबंधित जांच के लिए 5156 लोगों के नमूने एकत्र कर जांच को भेज चुका जिसमें से 4574 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। 422 सैंपल का परिणाम आना अभी अवशेष है।

 

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस