सोनभद्र, जेएनएन। Coronavirus News Update  सोनभद्र में रविवार की सुबह एक एंबुलेंस चालक व दंपती समेत चार और कोरोना पाॅजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया है। नगर पंचायत घोरावल से सेवानिवृत्त व मौजूदा समय में संविदा में नगर पंचायत में कार्य करने वाला कर्मी संक्रमित मिला है। राबर्ट्सगंज के लोहरा के दंपती पूर्व में मिले एक संक्रमित के संपर्क में आने के बाद वे कोरोना वायरस के शिकार हो गए जबकि चतरा के पुरना जीम गांव निवासी व एंबुलेंस चालक कोरोना पाजिटिव मिले हैं। इस तरह जनपद में संक्रमितों की संख्या 38 हो गई है। जिसमें एक्टिव केस 10 हैं। 

लोहरा की बस्ती में प्रशासनिक अमले का डेरा 

राबर्ट्सगंज कोतवाली क्षेत्र के लोहरा सुकृत नहर निवासी 32 वर्षीय युवक व उसकी 28 वर्षीय पत्नी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यह दंपती गैर प्रांत या जनपद से आने वालों में शामिल नहीं हैं अलबत्ता इस गांव में पूर्व में मिले संक्रमित प्रवासी श्रमिक के संपर्क में आने के कारण दोनों संक्रमित हो गए हैं। इससे हड़कंप मच गया है। संक्रमिक से संक्रमण फैलने की पुष्टि होने के बाद प्रशासनिक अमले ने लोहरा की उस बस्ती में डेरा डाल दिया है। संक्रमित व्यक्ति का कहना है कि इसी गांव के पूर्व में मिले कोरोना पाॅजिटिव आए व्यक्ति से मिले थे। प्रशासन गांव को सील कर सभी परिवार के सदस्यों व ग्रामीणों के स्वैब का नमूना लेकर जांच को भेजने की योजना बना रहा है।

मुख्य चिकित्साधिकारी दफ्तर व कोरोना कंट्रोल रूम भी सील

पन्नूगंज थाना क्षेत्र के बेलखुड़ी मोड़ पुरना जीम निवासी 38 वर्षीय युवक कोरोना संक्रमित मिला है। वह मेडिकल मोबाइल यूनिट के एंबुलेंस का चालक है। इसके मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। पुरना जीम गांव को सील तो किया ही गया, मुख्य चिकित्साधिकारी दफ्तर व इसमें स्थित कोरोना कंट्रोल रूम को भी 48 घंटे के लिए सील कर दिया गया है। साथ ही सीओमओ दफ्तर व गांव को सैनिटाइज किया गया। चौथा मामला नगर पंचायत घोरावल के वार्ड एक का है। यहां रहने वाले सेवानिवृत्त नपं कर्मी 66 वर्षीय वृद्ध कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। पीड़ित का कहना है कि वे नपं में मुहर्रिर के पद से सेवानिवृत्त हुए। कर्मियों की कमी होने के कारण नपं प्रशासन ने उन्हें संविदा पर कार्य कराने लगा।

चारों संक्रमितों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मधुपुर में भर्ती कराया गया

रविवार को मिले कोरोना संक्रमितों को मधुपुर स्थित कोरोना वार्ड में उपचार के लिए आइसोलेशन में भर्ती कराया गया है। उनके गांवों को सैनिटाइज करने के बाद उसे सील कर दिया गया है। इन सभी संक्रमितों के स्वैब का नमूना 24 जून को जांच के लिए लिया गया था। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एसके उपाध्याय ने कहा कि चारों संक्रमितों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मधुपुर में भर्ती करा दिया गया है। संक्रमितों के गांवों के साथ ही सीएमओ दफ्तर भी सील कर दिया गया है। स्वास्थ्य टीम भेजकर उनके संपर्क में आने वालों की पहचान कर स्वैब का नमूना लिया जा रहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस