Move to Jagran APP

CM योगी का कांग्रेस पर हमला, बोले- नक्सल और आतंकवाद को दिया बढ़ावा, गरीबों-दलितों के अपमान का जनता लेगी बदला

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने पीएम मोदी की मौजूदगी में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। सीएम ने कहा क‍ि कांग्रेस ने देश में नक्सलवाद और आतंकवाद को बढ़ावा द‍िया है। जनता कांग्रेस से गरीबों दलितों और संवैधानिक संस्थाओं के अपमान का बदला लेगी।

By Jagran NewsEdited By: Prabhapunj MishraPublished: Sat, 25 Mar 2023 08:37 AM (IST)Updated: Sat, 25 Mar 2023 08:37 AM (IST)
UP Politics: मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ का कांग्रेस पर हमला

वाराणसी, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मौजूदगी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को संपूर्णानंद में आयोजित जनसभा में राहुल गांधी और कांग्रेस पर बेहद हमलावर रहे। मोदी पर टिप्पणी का हवाला देते हुए कहा कि देश की जनता गरीबों, दलितों, वंचितों, पिछड़ों और देश की संवैधानिक संस्थाओं के अपमान का बदला कांग्रेस से जरूर लेगी। कहा कि एक ओर जहां भारत की प्रगति और विरासत पर पूरी दुनिया गौरव की अनुभूति करते हुए यहां के लोकतंत्र को अंगीकार करने को लालायित है वहीं कुछ लोग बाहर जाने पर भारत के लोकतंत्र को कटघरे में खड़ा करते हैं।

भारत को कमजोर करने का प्रयास करने वालों को देश से जल्द माफी मांगनी चाहिए

जब देश के वंचित, पिछड़े, एक गरीब बेटे को सर्वोच्च पद पर जाने का अवसर प्राप्त होता है तो कांग्रेस को फूटी आंख यह अच्छा नहीं लग रहा है। कहा कि जाने-अंजाने में भारत को कमजोर करने का प्रयास करने वालों को देश से जल्द माफी मांगनी चाहिए अन्यथा ऐसे लोगों को देश की जनता कभी स्वीकार नहीं करेगी। आरोप लगाया कि जिन लोगों को 2004 और 2009 में ईवीएम के माध्यम से सरकार बनाने का अवसर प्राप्त हुआ था आज वह लोग अपनी विश्वसनीयता खो चुके हैं तो ईवीएम पर सवाल उठाकर संवैधानिक संस्थाओं को भी कठघरे में खड़ा करने का प्रयास करते हैं।

इन लोगों ने कभी व‍िकास के बारे में नहीं सोचा- सीएम योगी

यह वह लोग हैं जिन्हें भारत का विकास अच्छा नहीं लग रहा है। आरोप लगाया कि भारत दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र ही नहीं, बल्कि दुनिया में लोकतंत्र की जननी के रूप में स्थापित करने के प्रधानमंत्री के अभियान में वह हर स्तर पर बैरियर खड़ा कर रहे हैं। कैसे देश की सबसे पुरानी राजनीतिक दल के रूप में कांग्रेस के नेताओं द्वारा न्यायालय के अवमानना किए जाने वाले वकतव्य दिए जा रहे हैं इसे सबने देखा है। इन लोगों ने कभी भी विकास के बारे में नहीं सोचा।

नक्सलवाद और आतंकवाद को दिया बढ़ावा

सीएम ने कांग्रेस पर आरोप मढ़ा कि जब इन्हें अवसर प्राप्त हुआ तो देश में अपने स्वार्थ के लिए नक्सलवाद और आतंकवाद को बढ़ावा दिया। आवश्यकता पड़ी तो जाति के नाम पर, क्षेत्र के नाम पर, भाषा के नाम पर देश को अलग-अलग खेमों में विभाजित करने का प्रयास किया। लोगों को खेमों में बांटकर भ्रष्टाचार के नए मानक तैयार किए। आज जब भारत विकास की नई आभा के साथ वैश्विक मंच पर छाता हुआ दिखाई दे रहा है तो उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है।

जाके प्रभु दारुण दुख दीन्हा

सीएम ने कहा कि जब न्यायालय के द्वारा वकत्व्य के लिए माफी मांगने को कहा गया तो कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा माफी नहीं मांगूगा। एक पिछड़ी जाति के प्रति किस तरह अनर्गल बयान देकर एक सामान्य संसदीय शिष्टाचार का भी पालन नहीं किया। मानस की चौपाई ‘जाके प्रभु दारुण दुख दीन्हा, ताके मति पहले हर लीन्हा’ का उदाहरण दिया। कहा कि कैसे उनके मति को हरने का प्रभु ने काम किया है वह देश ने देखा जब न्यायालय ने उनके कृत्यों के लिए सजा सुनाई। इसके बाद भी कांग्रेस नेताओं के बयान किस रूप में थे किसी से छुपा हुआ नहीं है।

एक तरफ कांग्रेस, दूसरी तरफ विकास करने वाले प्रधानमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ जाति और अलग-अलग खेमों में बांटने वाली कांग्रेस है तो दूसरी तरफ सबका विकास, सबका विश्वास, सबका साथ और सबके प्रयास को लेकर बिना भेदभाव के काम करने वाले प्रधानमंत्री। पिछले नौ साल में करोड़ों लोगों को आवास, शौचालय, रसोई गैस का कनेक्शन, बिजली का कनेक्शन, आयुष्मान भारत सहित तमाम विकास योजनाओं का लाभ मिला है। कुछ लोगों को यह अच्छा नहीं लगता।

सौगात देने आए हैं प्रधानमंत्री

अनेक योजनाओं की सौगात देने के लिए प्रधानमंत्री काशी में आए हैं। काशी से उनका आंतरिक लगाव है। काशी उनके रग-रग में बसी है। काशी में प्रधानमंत्री की उपस्थिति प्रत्येक जनप्रतिनिधि को जनता के प्रति संवेदनशील और विकास के कार्य के प्रति सचेत करती है। प्रधानमंत्री का जब भी काशी आगमन होता है तब काशी को लेकर वह कुछ न नई सौगात लेकर आते हैं। आज काशी के लिए 17 सौ 80 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास हो रहा है। काशी तो नव्य और भव्य बन ही चुकी है, उनकी प्रेरणा और मार्ग दर्शन में उत्तर प्रदेश और भारत ने विकास की जिन ऊंचाई को प्राप्त किया है उसे पूरी दुनिया कौतूहल से देख रही है।

पीएम का संसद में काशी से प्रतिनिधित्व हम सबका सौभाग्य

हम सबका यह गौरव है कि प्रधानमंत्री संसद में काशी का प्रतिनिधित्व करते हैं। काशी प्राचीन काल से ही भारत की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक नगरी के रूप में जानी जाती रही है, लेकिन इसे वैश्विक रूप में मान्यता मिले भौतिक विकास हो नौ वर्षों में इसके लिए कार्य होते यहां के लोगों ने देखा है।

35 हजार करोड़ की परियोजनाएं काशी में आईं

सीएम योगीआदित्यनाथ ने बताया कि विगत नौ वर्षों के अंदर अकेले काशी में ही 35 हजार करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाएं या तो पूरी हुई हैं या तो उसका लोकार्पण होने जा रहा हैं। विकास की नई आभा के साथ नव्य और भव्य काशी के साथ उत्तर प्रदेश और देश की दुनिया में नई पहचान बन रही है। आजादी के 75वें वर्ष में भारत जी-20 देशों के समूह की अध्यक्षता कर रहा है जो भारत की नई ताकत का अहसास वैश्विक स्तर पर कराता है। हर एक क्षेत्र में इस विकास को दुनिया महसूस कर रहा है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.