जागरण संवाददाता, वाराणसी : बरेका के सिविल इंजीनियर ओमप्रकाश सोनकर के घूस लेने के मामले में सीबीआइ बुधवार को जनपद में फिर धमक पड़ी। बरेका में कुछ कागजात खंगालने के साथ टीम ने जानकारी इकट्ठा की। दो बरेका कर्मियों से फिर से पूछताछ की गई। टीम को रिश्वत लेते पकड़े गए इंजीनियर ओपी सोनकर के बैंक आफ बड़ौदा में लाकर की भी जांच करनी थी, लेकिन उसकी पत्नी की तबीतय बिगड़ने से जांच नहीं हो पाई।

सीबीआइ तीसरी बार इस मामले में आई है

ओपी सोनकर को गिरफ्त में लेने सहित सीबीआइ तीसरी बार इस मामले में आई है। हाल ही में वह कई दिन तक यहीं डेरा जमाए रही। बुधवार को वह बरेका से साथ चांदपुर इंडस्ट्रियल एरिया स्थित बैंक आफ बड़ौदा पहुंची। वहां अनीता सोनकर को बुलवाया गया। लाकर की जांच के पहले ही अनीता की तबीयत बिगड़ गई। गश आने पर चिकित्सकों की टीम को बुलाया गया।

तीन लाख रुपये घूस लेते वक्त सीबीआइ ने उसे रंगेहाथ दबोचा था

फिलहाल उसकी हालत ठीक बताई गई। देर रात तक सीबीआइ बैंक पर जमी रही। इस दौरान किसी को आने-जाने नहीं दिया जा रहा था। इस मामले में संबंधित बैंक कर्मी व बरेका के अधिकारी कुछ भी बोलने से बचते रहे। माना जा रहा है कि आगे टीम कुछ दिन जिले में बनी रहेगी। विदित हो कि ठेकेदार राजू राजभर से तीन लाख रुपये घूस लेते वक्त सीबीआइ ने उसे रंगेहाथ दबोचा था। तब से सीबीआइ की टीम अब तक दर्जन भर बरेका कर्मियों से पूछताछ कर चुकी है तो आरोपित की पत्नी से पूछताछ के लिए उसके घर नोटिस भी चस्पा कर चुकी है।

Edited By: Saurabh Chakravarty

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट