चंदौली, जेएनएन। गुरुवार की सुबह पड़ाव पर उस समय हड़कंप मच गया जब बस के केबिन में चालक राजबली मिश्र (58) की लाश मिली। हालांकि मौत का कारण रहस्य बना हुआ है। हालांकि सूचना पर पहुंचे परिजनों के पीएम से मना करने के बाद पुलिस मौत की वजह हार्ट अटैक मान रही है।

मूल रूप से मीरजापुर जनपद के चुनार थाना क्षेत्र के कैलहट निवासी राजबली मिश्र ने एक सप्ताह पूर्व प्राइवेट बस चलाना शुरू किया था। पड़ाव से मीरजापुर मार्ग पर बस चलाते थे। बुधवार की रात चौराहे स्थित एक पेट्रोल पंप पर गाड़ी खड़ी कर रोज की भांति भोजन करने के बाद बस की छत पर सोने चले गए। सुबह जब काफी देर हो गयी तो खलासी छांगुर जगाने पहुंचा। लेकिन जब वे नहीं उठे तो आसपास के लोगों को बुलाने के साथ पिकेट पर तैनात पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी।

मृतक के बड़े बेटे अभय मिश्र ने बताया कि काफी समय से हार्ट की बीमारी का इलाज चल रहा था। इससे बीच में गाड़ी चलाना बंद कर दिए थे। इधर कुछ सुधार होने पर मना करने के बाद भी गाड़ी चलाने लगे थे। उन्होंने पुलिस को लिखित में दिया कि पिता की मौत हार्ट अटैक से ही हुई होगी। कोई कानूनी कार्रवाई नहीं चाहते हैं। मृतक की मौत की खबर मिलते ही पत्नी गुलाबी बिलख पड़ी। मृतक को एक पुत्र व चार पुत्री हैं। चौकी प्रभारी जलीलपुर विपिन सिंह ने कहा कि परिजन कोई कानूनी कार्रवाई नहीं चाहते थे। इसलिए पंचनामा कर शव को परिजनों को सौंप दिया गया।

Posted By: Abhishek Sharma