वाराणसी, जेएनएन। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जनपद में टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इस दौरान वैक्सीन की कमी साफ नजर आ रही है। इससे बनारस रेल इंजन कारखाना व पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल चिकित्सालय भी अछूता नहीं है। इन दोनों संस्थानों में कोरोना टीकाकरण का कार्य प्रभावित हो रहा है। बनारस रेल इंजन कारखाना व पूर्वोत्तर रेलवे के अस्पताल में मंगलवार को भी सुबह 11 बजे से पहले वैक्सीन नहीं पहुंची। इससे लोगों को लाइन लगी रही।

हालांकि, महाप्रबंधक अंजली गोयल के कुशल नेतृत्व में बेरका में कोविड-19 टीकाकरण का महा अभियान चरणबद्ध तरीके से चल रहा है। इसी क्रम में एक दिन पूर्व सोमवार को टीकाकरण केंद्र में 396 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। 18 वर्ष के ऊपर के सभी लाभार्थी पहले से ही आरोग्य सेतु एप व cowin.gov.in पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद बीएलडब्ल्यू का स्लॉट बुक कराकर आईडी के साथ सुविधानुसार  टीकाकरण केंद्र, कर्मचारी क्लब पर पहुँच रहे हैं।

महाप्रबंधक अंजली गोयल द्वारा चिकित्सीय व्यवस्था, टीकाकरण एवं जन जागरूकता अभियान की लगातार समीक्षा की जा रही है। बरेका में विभिन्न स्थानों पर जन जागरूकता अभियान चलाकर अधिक से अधिक लोगों से टीका लगवाने की अपील की जा रही है।

बरेका में 10 मई, सोमवार को रेलवे के 60 तथा नॉन रेलवे के 209  लाभार्थीयो सहित कुल अब तक 12919 पात्र लोगों को वैक्सीनेशन की पहली डोज दी  गई,जबकि दूसरी डोज रेलवे के 108 तथा नॉन रेलवे के 19  लाभार्थीयो  सहित कुल 5840 लोगों का पूर्ण टीकाकरण किया गया। जन संपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने रेल कर्मचारियों से अपील की है कि जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक 45 वर्ष से कम या 45 वर्ष से अधिक है, वह लोग इस टीकाकरण महाअभियान में शामिल होकर कोविड संक्रमण की चेन को तोड़े और अपना टीकाकरण कराकर कोविड-19 महामारी के संक्रमण से बचे। साथ ही टीकाकरण को कराने के बाद भी लोग मास्क, सैनिटाइजर  का प्रयोग के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते रहे।

.... तो दूसरी  डोज के लाभार्थियों के लिए भी पंजीयन जरूरी

वैक्सीन की कमी के कारण बनारस रेल इंजन कारखाना व पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल चिकित्सालय में रोजाना करीब 50 से 60 लाभार्थी बिना टीका लगवाए लौट रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि दूसरी डोज के लिए भी पोर्टल पर पंजीयन कराने की बात अस्पताल प्रबंधन की ओर से की जा रही है। हालांकि, बनारस रेल इंजन कारखाना के जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार तथा पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने दूसरी डोज लगवाने वाले लाभार्थियों के इन बातों को गलत ठहराया है। कहना है कि अभी तक शासन स्तर से कोई निर्देश नहीं मिला है कि दूसरी दोज के लाभार्थी भी पोर्टल पर पंजीयन कराएंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप