वाराणसी, जागरण संवाददाता। दुर्गाकुंड स्थित सीएमओ कार्यालय परिसर से आयुष्मान पखवाड़े के तहत मंगलवार को जन-जागरुकता बाइक रैली निकाली गई। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के उपक्रम कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) ई-गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड की ओर से जनपद के सीएससी संचालकों की रैली को सीएमओ डा. वीबी सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) के अंतर्गत आयुष्मान पखवाड़े का आगाज 26 जुलाई को हुआ था, जिसका समापन आठ अगस्त को होगा।

इस पखवाड़े में योजना के अंतर्गत छूटे हुए लाभार्थी परिवारों के सभी सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनवाना जरूरी है, ताकि उन्हें योजना से लाभान्वित किया जा सके। सीएमओ डा. वीबी सिंह ने बताया कि जिले में ग्रामीण व शहरी (चौकाघाट, शिवपुर व दुर्गाकुंड) सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, एसएसपीजी कबीरचौरा, जिला महिला चिकित्सालय, एलबीएस रामनगर, डीडीयू पांडेयपुर, मानसिक चिकित्सालय पर आयुष्मान मित्रों व कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से आयुष्मान कार्ड के लाभार्थी अपना केवाईसी (अपने ग्राहक को जानें) कराकर गोल्डन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। यह गोल्डन कार्ड निश्शुल्क बनाया जा रहा है। उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी व आयुष्मान भारत के नोडल अधिकारी डा. पीयूष राय ने बताया कि सामाजिक आर्थिक जनगणना 2011 के अनुसार जनपद में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) के 1,14,419 व मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान (सीएमजेएए) के 19,817 चिन्हित लाभार्थी परिवार हैं। इसके सापेक्ष पीएमजेएवाई के तहत 1,00,626 व सीएमजेएए के तहत 13,071 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाया जा चुका है। योजना के तहत जिले में अभी तक 61,147 लाभार्थियों को निश्शुल्क इलाज किया जा चुका है। इस अवसर पर डीएचईआईओ हरिवंश यादव, आयुष्मान भारत जिला इकाई से डीआईएसएम नवेंद्र सिंह, डीजीएम सागर गुप्ता, सीएससी के जिला समन्वयक हर्ष नारायण सिंह, सीएससी संचालक दिगंबर पांडेय, चंद्रेश यादव, अजय गुप्ता, रविशंकर, प्रभास आदि थे।

हर वार्ड में है कामन सर्विस सेंटर, बनवाएं गोल्डेन कार्ड 

सीएससी के जिला प्रबंधक अरविंद कुमार मौर्य ने बताया कि प्रत्येक ग्राम पंचायत एवं शहर में प्रत्येक वार्ड में कॉमन सर्विस सेंटर है, जिनके माध्यम से लाभार्थी अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। उसी क्रम में लोगों को जागरूक करने के लिए इस बाइक रैली का आयोजन किया गया। जिला समन्वयक हर्ष नारायण सिंह ने बताया कि जो भी आयुष्मान भारत के पात्र लाभार्थी हैं और जिनके पास प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री का आयुष्मान पत्र है, वह जल्द से जल्द आयुष्मान कार्ड बनवा लें अन्यथा भविष्य में इस योजना का लाभ ले पाना मुश्किल हो सकता है।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty