गाजीपुर, जेएनएन। अपर मुख्य सचिव गृह, सूचना व कार्यपालक अधिकारी यूपीडा अवनीश कुमार अवस्थी रविवार को कासिमाबाद क्षेत्र के महमूदपुर गांव पहुंचे थे। यहां पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे निर्माण कार्यों की समीक्षा की। इसके बाद मौके पर जाकर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे निर्माण कार्य का निरीक्षण भी किया। 340 किमी लंबी इस सड़क का निर्माण 18 हजार करोड़ की लागत से कराया जा रहा है।

बैठक के बाद प्रमुख सचिव पत्रकारों से मुखातिब थे। बताया कि यह योजना मुख्यमंत्री की महत्वपूर्ण योजनाओं में एक है। इस सड़क को दिसंबर-जनवरी तक पूरा कर चालू कर दिया जाएगा। 52 प्रतिशत तक काम पूरा कर लिया गया है। कहा कि मैंने यहां एक मजदूर से पूछा कि सड़क कहां तक जाएगी तो उसने बताया कि दिल्ली तक जाएगी। कहा कि यह वाकई दिल्ली जाएगी। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे जब बन जाएगी तब तक लखनऊ में रिंग रोड का भी हिस्सा बन जाएगा। इससे होते हुए आगरा एक्सप्रेस-वे से दिल्ली तक जा सकेंगे। यह गाजीपुर के लोगों के लिए सबसे अच्छा होगा। लोग यहां से तीन या साढ़े तीन घंटे में लखनऊ पहुंच जाएंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के निर्माण में लगे वाहनों के आवागमन से क्षेत्र की सड़कों के टूटने के सवाल पर बताया कि बरसात बाद टूटी सड़कों की मरम्मत करा दी जाएगी। जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य, जिलाधिकारी मऊ,  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. जीसी मौर्या, उप जिलाधिकारी रमेश मौर्य, क्षेत्राधिकारी महमूद अली, कोतवाल बलवान ङ्क्षसह सहित यूपीडा व जिले के अन्य आला अधिकारी मौजूद थे।

सड़क कटवाकर परखी गुणवत्ता

अपर मुख्य सचिव का उडऩ खटोला शाम 3.26 पर कासिमाबाद के धरवारकला गांव के पास पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर बने हेलीपैड पर उतरा। जहां उनकी अगवानी जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य ने पुष्पगुच्छ देकर की। इसके बाद अपर मुख्य सचिव को गार्ड आफ आनर दिया गया। उसके बाद अपर मुख्य सचिव कार द्वारा सड़क निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। उन्होनें एक जगह सड़क कटवा कर भी देखा। इसके बाद वे ओरिएंटल स्ट्रक्चरल इंजिनियर्स लिमिटेड के कैंप कार्यालय पहुंचे जहां उन्होंने समीक्षा बैठक की। शाम लगभग चार बजे समीक्षा बैठक समाप्त होने के बाद उनका उडऩ खटोला लखनऊ के लिए 4.10 पर उड़ गया।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस