मऊ, जेएनएन। मुहम्मदबाद गोहना कोतवाली क्षेत्र के ढांढाचंवर (झंझवापार) गांव में सियारों के झुंड ने आंगनबाड़ी केंद्र से पढ़कर वापस लौट रहे एक पांच वर्षीय बालक को नोंचकर मार डाला। इस घटना में उसकी तीन वर्षीय छोटी बहन बाल-बाल बच गई। इस लोमहर्षक घटना से पूरे गांव में कोहराम मच गया। 

गांव निवासी मल्लू का नाती पांच वर्षीय अजय व नतिनी तीन वर्षीय कृति पुत्र शरद निवासी धरोहिया शुक्रवार की दोपहर बाद आंगनबाड़ी केंद्र ढांढ़ाचंवर से पढ़कर नाना के घर आ रहे थे। इसी बीच रास्ते में केंद्र से कुछ दूरी पर गेहूं के खेत से निकले सियारों के झुंड ने दौड़ाकर बच्चों पर हमला कर दिया। इनमें से कृति किसी तरह जान बचाकर भाग निकली और इसकी जानकारी शोर मचाते हुए परिजनों को दिया।

इधर अजय अकेला ही सियारों के झुंड के बीच फंस गया। जब तक परिजन मौके पर पहुंचते सियारो के झुंड ने बच्चे के शरीर को बुरी तरह नोंच डाला था। इससे बच्चे की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। जानकारी होने पर गांव के लोग काफी संख्या में वहां जुट गए। किसी ने 112 नंबर पर पुलिस व कोतवाली पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दिया। इस घटना से परिजनों कोहराम मचा हुआ है। बाद में सूचना पर पहुंचे कोतवाल नीरज पाठक व सीओ नंदलाल घटना की जांच कर रहे हैं।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस