संवाद सूत्र, बिछिया : लखनऊ-कानपुर हाईवे पर रोडवेज वर्कशॉप के सामने तीन बाइक के आपस में टकराने से एक पर सवार दो युवक सड़क पर गिर गए। वह संभल पाते उससे पहले पीछे से आ रहे तेज रफ्तार अज्ञात वाहन ने दोनों को रौंद दिया। एक की मौके पर मौत हो गई, जबकि दूसरे को गंभीर हालत में जिला अस्पताल से कानपुर के हैलट अस्पताल रेफर कर दिया गया। दोनों दही चौकी क्षेत्र की एक फैक्ट्री में काम करते हैं।

सदर कोतवाली के गजौली गांव निवासी 30 वर्षीय श्रीकृष्ण पुत्र रतनलाल अचलगंज थाना क्षेत्र के ओरहर मोड़ स्थित एक फैक्ट्री में पिछले दो सालों से सुपरवाइजर के पद पर तैनात था। बुधवार दोपहर वह लखीमपुर खीरी निवासी फैक्ट्री के कर्मी असद के साथ किसी काम से शहर गया था। लौटते वक्त दही चौकी स्थित रोडवेज वर्कशॉप के पास कानपुर-लखनऊ हाईवे पर एक साथ तीन बाइक आपस में टकरा गईं। बाइक टकराने से श्रीकृष्ण और असद नीचे गिर गए। अभी वह संभल पाते की कानपुर से लखनऊ की ओर जा रहे किसी अज्ञात वाहन ने दोनों को रौंद दिया। श्रीकृष्ण की मौके पर मौत हो गई, जबकि साथी असद गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर फैक्ट्री के लोग मौके पर पहुंचे और दोनों को आनन-फानन जिला अस्पताल ले गए। डॉक्टर ने श्रीकृष्ण को मृत बता असद की हालत नाजुक देख कानपुर रेफर कर दिया। उधर श्रीकृष्ण की मौत की सूचना घर पहुंचते ही कोहराम मच गया। पत्नी माया दो मासूम बेटी चार साल की पूर्वी और 2 माह की समानता को लेकर बिलख पड़ी।

----------

मदद के नाम पर जेब से उड़ा दी नकदी

- हादसे के बाद एक युवक खून से लथपथ श्रीकृष्ण के पास पहुंचा और उसकी पहचान के लिए पैंट की जेब की तलाशी लेने लगा, इस दौरान उसके हाथ आधार कार्ड के साथ नकदी लगी। शातिर युवक आधार कार्ड को वहीं फेंक नकदी लेकर भाग पड़ा। भीड़ में मौजूद लोगों ने उसे दौड़ाया पर वह भाग निकलने में कामयाब रहा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप