मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, पुरवा : दो माह पूर्व नगर के एक चिकित्सक से बीमा पॉलिसी व जीएसटी में छूट के साथ प्रलोभन देकर 20 लाख 22 हजार की ठगी करने वाले दो साइबर अपराधियों को कोतवाली पुलिस ने नोएडा से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने नकदी समेत कई महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए हैं।

गत 15 जून को पुरवा के पश्चिम टोला निवासी डॉ अशोक दुबे के साथ बीमा पॉलिसी, जीएसटी, डीडीटीएम मशीन लगवाने के नाम पर 20 लाख 21 हजार 962 रुपये की ठगी कर ली गयी थी। दो साइबर क्राइम अपराधियों ने डॉ अशोक दुबे को मोबाइल पर विभिन्न प्रलोभन देकर फर्जी दस्तावेज तैयार करते हुए लाखों की चेक ले ली थी। जब डॉ अशोक दुबे को ठगी और जालसाजी की भनक लगी तो उन्होंने कोतवाली में अभियोग पंजीकृत कराया था। जिसके बाद एसटीएफ व कोतवाली पुलिस ने सर्विलांस के सहारे ठगी करने वाले दोनो युवकों तक पहुंच गई और दोनों को नोयडा से गिरफ्तार कर लिया गया और एक लाख तीन सौ रुपये की नगदी, 4 मोबाइल, 16 लाख रुपये की चेक, बीमा सम्बंधित एक लाख प्वाइंट अनाधिकृत डेटा, 4 वॉकी टॉकी, 15 रजिस्टर सहित कई अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए हैं। पकड़े गए अभियुक्तों में एक शुभम पुत्र हरिकांत मिश्रा निवासी रविनगर मुगलसराय जिला चन्दौली, एवं दूसरा पंकज पुत्र भगवती निवासी बलिया नवाबगंज, थाना ओल्ड मालदा पश्चिम बंगाल है। दोनों पिछले कुछ समय से दिल्ली में रह रहे हैं। जिसमे शुभम पांडव नगर, दिल्ली व पंकज करावल दिल्ली में रहता है। सर्विलांस की सुरागकशी पर कोतवाल अतुल कुमार तिवारी, दरोगा अहिबरन सिंह, कांस्टेबल योगेंद्र सिंह, प्रेमचंद पांडेय, पुष्पेंद्र सहित एसटीएफ के विमलेश सिंह ने दोनों को धर दबोचा। मोबाइल से चलाते थे ठगी का धंधा

पकड़े गए अभियुक्त शूभम व पंकज साइबर क्राइम के मास्टर माइंड थे। मोबाइल पर हिदी, अंग्रेजी में बात कर बीमा, जीएसटी, टावर सहित अन्य विषयों पर समस्या समाधान की बात कर जाली दस्तावेज तैयार करते थे और चेक के माध्यम से लाखों की रकम की ठगी करते थे। दो माह पूर्व ठगी के दर्ज मुकदमे के खुलासे के लिए पुलिस लगातार काम कर रही थी। विभिन्न सूचनाओं के आधार पर दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर नगदी समेत सायबर अपराध से जुड़े दस्तावेज बरामद किए गए है। घटना का खुलासा करते हुए दोनों को जेल भेजा जा रहा है।

- अतुल कुमार तिवारी कोतवाल पुरवा

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप