जागरण संवाददाता, उन्नाव : भाजपा प्रत्याशी के नामांकन जुलूस के दौरान लगे जाम में फंसे वाहन सवार तड़पने को मजबूर रहे। जाम में फंसी दो एंबुलेंस को चंद कदम दूरी तय करने में आधा घंटा लग गया। इस दौरान एंबुलेंस में एक प्रसूता की हालत बिगड़ गई। जान जोखिम में पड़ी तो चालक ने सायरन बजा लोगों को किनारे करने की कोशिश की, पर जाम के चलते करीब 20 मिनट उसे सड़क पर खड़ा रहना पड़ा।

अचलगंज थाना क्षेत्र के कोलुहागाड़ा निवासी विनोद की पत्नी सरस्वती को डिलीवरी होनी थी। दर्द बढ़ने पर सोमवार सुबह परिजन उसे अचलगंज सीएचसी ले गए, जहां हालत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। सीएचसी की 108 एंबुलेंस उसे लेकर जिला अस्पताल को चली। सुबह 11.30 बजे करीब अस्पताल गेट पर एंबुलेंस पहुंची थी कि भाजपा प्रत्याशी का जुलूस निकलने से एंबुलेंस जाम में फंस गई। प्रसूता की हालत बिगड़ती देख चालक ने सायरन बजाया पर जाम से निकलना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन हो गया। करीब 20 मिनट एंबुलेंस जाम में फंसी रही। चालक ने किसी तरह सूझबूझ का परिचय देकर एंबुलेंस निकाली और प्रसूता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। दूसरी एंबुलेंस पोस्टमार्टम हाउस के सामने फंसी रही।

Posted By: Jagran