मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, उन्नाव : पुरानी पेंशन बहाली समेत ग्यारह मांगों को लेकर प्रांतीय नेतृत्व के आह्वान पर राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद जिलाध्यक्ष उमानिवास बाजपेई के नेतृत्व में परिषद से संबद्ध विभिन्न विभागों के संगठनों के पदाधिकारियों और कर्मचारियों ने नहर निरीक्षण भवन से मशाल जुलूस निकाला। मशाल उठाए कर्मचारी सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां मुख्यमंत्री और मुख्यसचिव को संबोधित 11 सूत्री मांग पत्र नगर मजिस्ट्रेट को दिया। मशाल जुलूस निकालने से पूर्व हुई सभा में परिषद अध्यक्ष और महामंत्री केशव सिंह और पर्यवेक्षक रवींद्र शुक्ल ने कहा कि अपने अपने भाषण में सरकार को चेतावनी दी कि कर्मचारी हितों की अनदेखी का हम सभी एकजुट होकर मुंहतोड़ जवाब देंगे। राजस्व संग्रह अमीन संघ के जिलाध्यक्ष दिलीप अवस्थी, पुरानी पेंशन बहाली मंच के सहसंयोजक रामचंद्र सिंह ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली के लिए कर्मचारियों को जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी वह देंगे। सभा और विरोध प्रदर्शन में प्रमुख रूप से अमित सिंह, एसपी सिंह, हरिनाम सिंह, संदीप भारती, शैलेश शुक्ल, श्याम किशोर यादव, चंद्रसेन मौर्य, आरसी कनौजिया, बृजेंद्र कुमार, प्रकाश मिश्र आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप