जागरण संवाददाता, उन्नाव : लॉकडाउन में विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित न हो, इसके लिए शिक्षा विभाग ने डिजिटल राह पकड़ी और वर्चुअल कक्षाएं शुरू की। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने 10 वीं और 12 वीं के विद्यार्थियों के लिए शैक्षिक चैनल 'स्वयंप्रभा' की शुरुआत की है। दूरदर्शन पर दिखाए जाने वाले इस चैनल में अब राजकीय, एडेड और वित्तविहीन स्कूलों के शिक्षकों द्वारा तैयार वीडियो दिखाया जाएगा। चैनल प्रसारण के लिए विभिन्न विषयों की रिकॉर्डिंग एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय में की जा रही है। प्रसारण के लिए जिन विषयों को प्रमुखता से शामिल किया गया है, उनमें हिदी, संस्कृत, गणित, अंग्रेजी समेत सामाजिक विज्ञान व विज्ञान आदि प्रमुख हैं। प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला के आदेश पर डीआइओएस राकेश कुमार ने मंगलवार को सहायक व वरिष्ठ प्रवक्ताओं का एक पैनल बनाया है। राकेश कुमार ने बताया कि प्रेजेंटेशन में उम्दा, सही हावभाव से पढ़ाने वाले शिक्षकों का चयन कर उनके द्वारा तैयार वीडियो लखनऊ मंडलीय कार्यालय भेजा जाएगा।

---------

बेहतर प्रदर्शन और प्रशिक्षण दिलाने की योजना

गुरुजन अपनी प्रभा बिखेर सके, इसके लिए बेहतर प्रदर्शन और प्रशिक्षण दिलाने की योजना भी है। शिक्षाधिकारियों का कहना है कि 30-30 मिनट की चार कक्षाएं संचालित हो रही हैं। पूर्वाह्न 11 से दोपहर एक बजे तक टीवी पर प्रसारण के दौरान हाईस्कूल की 30-30 मिनट की दो कक्षाएं चलती है। इसके बाद इंटर की 30-30 मिनट की दो कक्षाएं। वहीं शाम साढ़े 4 से साढ़े 6 बजे तक पुन: प्रसारण होता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस