जागरण संवाददाता, उन्नाव : स्वच्छ भारत मिशन अर्बन के तहत कराए गए स्वच्छ सर्वेक्षण में उन्नाव की फतेहपुर चौरासी नगर पंचायत ने पांचवां स्थान हासिल किया है। इसके साथ ही उन्नाव नगर पालिका का आवास-विकास वार्ड सफाई में प्रदेश भर में अव्वल रहा। बुधवार यानी आज नगर निकाय विज्ञान भवन नई दिल्ली में केंद्रीय आवास एवं शहरी मंत्रालय पुरस्कार वितरित करेगा। मगर, चौंकाने वाली बात यह है कि यहां के अधिकारी इससे अनजान रहे।

नगर पालिका क्षेत्र में कितनी सफाई हो रही है तथा बाशिंदे स्वच्छता के प्रति कितने जागरूक हैं, इसे लेकर दो माह पहले भारत सरकार द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण कराया गया था। नगर पालिका की सफाई व्यवस्था के साथ जनता से फीड बैंक लिया गया था। निजी, सार्वजनिक और सामुदायिक शौचालय व कूड़ा निस्तारण को भी परखा गया था। स्वच्छता राज्य मिशन निदेशालय लखनऊ द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण के नतीजे घोषित किए गए हैं। सभी मापदंडों पर खरा उतरने के बाद प्रदेश के सभी 625 नगर निकायों और नगर पालिकाओं में फतेहपुर चौरासी नपं ने टॉप टेन में स्थान बनाया है।

--------------

प्रदेश से चयनित स्थानीय निकाय

बुलंदशहर से गुलावटी, अमरोहा से धरौरा, खीरी से पलिया कलां व मोहम्मदी, उन्नाव से फतेहपुर चौरासी, देवरिया से गौरा बड़हज, फीरोजाबाद से जसराना, गाजियाबाद से मुरादनगर, हरदोई से शाहाबाद, उरई से नदीगांव।

--------------

उन्नाव नगर पालिका को भी मिलेगा पुरस्कार

वार्डो के स्वच्छ सर्वेक्षण में उन्नाव के आवास विकास वार्ड ने प्रदेश में अव्वल स्थान हासिल किया है। उन्नाव को 2017 के सर्वेक्षण में 417वां स्थान मिला था।

---------------

अधिकारी रहे अनजान

इस बारे में जब नगर पालिका के ईओ आरपी श्रीवास्तव से बात की गई तो उनका कहना था कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। हालांकि नगर पंचायत फतेहपुर चौरासी नपं के ईओ संतोष चतुर्वेदी ने बताया कि पुरस्कार दिया जाएगा। वह पुरस्कार लेने के लिए दिल्ली रवाना हो गए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप