Move to Jagran APP

यूपी के इस जिले में गरजा बुलडोजर, रेलवे की जमीन पर किया था कब्जा; रेलवे स्टेशन का हो रहा कायाकल्प

Unnao News अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत 31 करोड़ रुपये से गंगाघाट रेलवे स्टेशन का कायाकल्प होना है। योजना के अंतर्गत रेलवे ट्रैक से 40 मीटर दूर राजीवनगर खंती की ओर बाउंड्री वाल बनाई जा रही है। राजीवनगर खंती रेलवे की जमीन है। जिसमें काफी पहले से लोग कब्जा करके कच्चे पक्के मकान बनाकर रहते चले आ रहे हैं।

By anil awasthi Edited By: Abhishek Pandey Published: Mon, 10 Jun 2024 02:01 PM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 02:01 PM (IST)
राजीवनगर खंती में बाउंड्री वाल बनाने को बुलडोजर से गिराए गए मकान

संवाद सहयोगी, शुक्लागंज। अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत 31 करोड़ रुपये से गंगाघाट रेलवे स्टेशन का कायाकल्प होना है। योजना के अंतर्गत रेलवे ट्रैक से 40 मीटर दूर राजीवनगर खंती की ओर बाउंड्री वाल बनाई जा रही है। राजीवनगर खंती रेलवे की जमीन है। जिसमें काफी पहले से लोग कब्जा करके कच्चे पक्के मकान बनाकर रहते चले आ रहे हैं। कार्यदायी संस्था एके बिल्डर्स की देखरेख में बाउंड्री वाल बनाने के लिए सरियों का जाल लगाया जा रहा है।

बीते माह बाउंड्री वाल बनाने के लिए नापजोख कराकर निशान लगाए गए थे। बता दें कि बीते शनिवार को दीवार की जद में आड़े आ रहे लगभग सात मकान बुलडोजर से गिराए गए हैं। वहीं, राजीवनगर खंती में रहने वाले लोगों का कहना है कि जहां निशान लगाए गए थे। वहां के अलावा अंदर की तरफ बने मकानों को भी तोड़ा गया है।

राजीवनगर खंती के रहने वाले रामजतन, जसकरन सैनी, रामसनेही, छंगा, बउआ, नन्हू व भोंदू आदि का कहना है कि जहां तक निशान लगाए गए थे वहां के बजाय अब उन लोगों के उसके पीछे बने मकानों को गिराया गया है। जिससे वहां के लोगों में नाराजगी है।

इसे भी पढ़ें: संसद में गूंजेगी यूपी के इस जिले की आवाज, नौ सांसद पहुंचेंगे दिल्ली; अखिलेश-डिंपल समेत ये नाम हैं शामिल


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.